शहर ने ओढ़ी कोहरे की चादर, वाहनों की गति हुई मंद

बढ़ी ठिठुरन, रजाइयों की दुकानों पर भीड़

शहर मंगलवार सुबह कोहरे की चादर में लिपटा रहा। वहीं शाम तक बादल छाए रहे। कोहरे का असर सुबह साढ़े दस बजे तक रहा। इस दौरान राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या तीन तथा ११बी पर वाहन चालकों को धीमी गति से वाहन चलाने पड़े। स्थिति यह रही की भारी कोहरे के कारण दिन में भी वाहन चालकों ने लाइट जलाई। शीतलहर चलने से मौसम में ठिठुरन बढ़ गई।

By: Dilip

Published: 17 Nov 2020, 10:01 PM IST

बढ़ी ठिठुरन, रजाइयों की दुकानों पर भीड़

धौलपुर. शहर मंगलवार सुबह कोहरे की चादर में लिपटा रहा। वहीं शाम तक बादल छाए रहे। कोहरे का असर सुबह साढ़े दस बजे तक रहा। इस दौरान राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या तीन तथा ११बी पर वाहन चालकों को धीमी गति से वाहन चलाने पड़े। स्थिति यह रही की भारी कोहरे के कारण दिन में भी वाहन चालकों ने लाइट जलाई। शीतलहर चलने से मौसम में ठिठुरन बढ़ गई। जिससे लोगों को पूरे गर्म कपड़े पहनने पड़े। वहीं रजाइयों की दुकानों पर भीड़ उमड़ पड़ी। इधर, गर्म कपड़े बेचने वालों की भी ग्राहकी बढ़ी।
दूसरी ओर से मूंगफली, गजक तथा चायों की दुकानों पर भी ग्राहकी बढ़ गई है। इस मौसम को खेती के लिए भी अच्छा बताया जा रहा है। ठण्डक बढऩे से सिंचाई की कम आवश्यकता होगी और फसल भी अच्छी पैदा होगी। रात को कई स्थानों पर तो लोग अलाव जलाकर तापते हुए दिखाई दिए।

उल्लेखनीय है कि गावर्धन के दिन शाम को तेज हवाओं साथ झमाझम बारिश होने के बाद से ही मौसम में अचानक परिवर्तन आ गया। इसके बाद दो दिन से बादल छाए हुए हैं। वहीं धूप नहीं के बराबर खुल रही है। ऐसे में लोगों को सर्दी का अधिक अहसास हो रहा है। वहीं अधिकतम तापमान व न्यूनतम तापमान में भी गिरावट होती जा रही है। इससे शहरवासी सर्दी के आगोश में आ रहे हैं। दूसरी ओर से एकाएक ठण्डक बढऩे से जुकाम-खांसी के मरीजों में भी इजाफा हुआ है। इससे अस्पतालों में भी मरीजों की भीड़ बढ़ गई है। वहीं लोगों में कोरोना संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है।

सबसे अधिक प्रभावित होता है हाइवे

शहर में कोहरा पडऩे से सबसे अधिक राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या तीन बुरी तरह प्रभावित होता है। धौलपुर से गुजरने वाला यह मार्ग उत्तर प्रदेश तथा मध्यप्रदेश को जोड़ता है। ऐसे में रोज इस राजमार्ग से हजारों की संख्या में बड़े वाहन निकलते हैं। वहीं छोटे वाहनों की तो गिनती ही नहीं है। वहीं धौलपुर से निकल रहे ओवरब्रिज तथा वाटर वक्र्स चौराहे पर दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। ऐसे में लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतनी पड़ती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned