बेची जमीन फर्जी दस्तावेज से कर दी 'दान'

पूर्व में जमीन खरीदने वाले पीडि़त ने दर्ज करवाया मामला

 

By: manish Singh

Published: 15 Oct 2021, 03:30 AM IST

अजमेर.

खरीदशुदा सम्पत्ति को फर्जी, कूटरचित दस्तावेज से संस्था को गिफ्ट डीड नामान्तरण के जरिए दान करने का मामला सामने आया है। पीडि़त की शिकाय पर क्रिश्चियन गंज थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

थानाप्रभारी डा. रवीश कुमार सामारिया ने बताया कि पंचशील योजना सेंट स्टीफन स्कूल के सामने रहने वाले फैयाजुल्ला ने रिपोर्ट दी कि पंचशील योजना में सेंट स्टीफन स्कूल के सामने स्थित सी-५२४ बी भूखण्ड डोरिन विक्टर पत्नी विक्टर के नाम था। उसने २८ मार्च २०१३ को डोरिन विक्टर से साढ़े ९ लाख रुपए में भूखण्ड खरीद लिया। डोरिन विक्टर की पुत्री सीमा ने बेचाननामे में बतौर गवाह के रूप में हस्ताक्षर किए। तब से सम्पत्ति पर मालिकाना हक उसी का है लेकिन डोरिन विक्टर की बेटी सीमा ने फर्जी व कूटरचित दस्तावेज के आधार पर माउंट कर्मेल मिनिस्ट्रीज ट्रस्ट को सम्पत्ति की गिफ्ट डीड कर फर्जी दस्तावेज से एडीए में नामांतरण खुलवा लिया। जबकि उक्त सम्पत्ति को उसने पूर्व में क्रय कर लिया। उसे नुकसान पहुंचाने की नीयत से आरोपियों ने फर्जी दस्तावेज से सम्पत्ति की गिफ्ट डीड कर दी। पुलिस ने पीडि़त की रिपोर्ट पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्जकर लिया।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned