scriptThe letters of the Prime Minister and the Governor will be monitored | प्रधानमंत्री और राज्यपाल के पत्रों पर रखी जाएगी नजर | Patrika News

प्रधानमंत्री और राज्यपाल के पत्रों पर रखी जाएगी नजर

महत्वपूर्ण पत्रों की होगी ऑनलाइन मॉनिटरिंग

स्वायत्त शासन विभाग ने दिए निर्देश

इम्पोर्टेन्ट डाक मॉनिटरिंग सिस्टम

अजमेर

Updated: March 05, 2022 09:16:20 pm

अजमेर. प्रधानमंत्री, राजभवन, सीएमओ व विभिन्न आयोगों से विभागों को प्राप्त होने वाले महत्वपूर्ण पत्र तथा उन पर की गई कार्यवाही की ऑनलाइन मॉनिटरिंग होगी। स्वायत्त शासन विभाग ने सभी प्राधिकरण, यूआईटी तथा स्थानीय निकायों को इस आशय के निर्देश दिए हैं।
ajmer news
ajmer news
सॉफ्टवेयर बनाया

इसके लिए इम्पोर्टेन्ट डाक मॉनिटरिंग सिस्टम (आईडीएमएस) बनाया गया है। इस सॉफ्टवेयर में केन्द्र व राज्य के महत्वपूर्ण कार्यालयों व विभिन्न आयोगों से प्राप्त होने वाले महत्वपूर्ण पत्रों को दर्ज किया जाकर आगे की कार्यवाही और अनुपालना आदि के लिए आआरएएनआईएस शाखा/ कार्यालय/ विभाग को भेजा जाएगा। अतिमहत्वपूर्ण पत्रों पर तीन दिन में की गई कार्यवाही की सूचना भेजनी होगी।
स्वच्छता सर्वेक्षण की 7 को समीक्षा बैठक

अजमेर. जिला कलक्टर अंशदीप की अध्यक्षता में स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 के संबंध में बैठक का आयोजन सोमवार 7 मार्च को दोपहर 12 बजे कलक्ट्रेट सभागार में होगा।
बंधक श्रम अवमुक्ति जनजागरण सप्ताह 7 से

अजमेर. स्वाधीनता का अमृत महोत्सव के कार्यक्रमों की श्रृंखला में बंधक श्रम अवमुक्ति जन जागरण सप्ताह का आयोजन 7 मार्च से 13 मार्च तक किया जाएगा। जिला कलक्टर अंशदीप ने बताया कि इस दौरान बंधक श्रम चिन्हीकरण, अवमुक्त एवं पुनर्वास गतिविधियों के आयोजन को जन जागरण अभियान चलाया जाएगा।
मणिपुंज के बाहर ठेला संचालकों का कब्जा, श्रद्धालु परेशान

अजमेर. बी.के.कौल नगर रोड स्थित वर्धमान स्थानक मणिपुंज धर्मस्थल के बाहर इन दिनों ठेले व खोमचे वालों ने कब्जा जमा रखा है। इससे जैन समाज के श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मणिपुंज में जैन संतों का प्राय: निवास व विहार रहता है और नियमित धर्म आराधना होती है। परिसर की दीवार के पास विभिन्न प्रकार के ठेले व केबिन आदि लगा दी गई हैं। यहां नॉन वेज भी पकाया जाता है। इसकी दुर्गध से श्रद्धालू परेशान हो रहे हैं। मणिपुंज मेें रात्रि करीबन 11 बजे तक दर्शनार्थी आते रहते हैं। ठेले जमे रहने से संतों के रात्रि विश्राम धर्म-आराधना, तपस्या में बाधा आती है। इस मामले को लेकर नगर निगम तथा पुलिस को भी शिकायत की जा चुकी है लेकिन अब तक कार्यवाही नहीं हुई है।
इनका कहना है

जैन समाज का यह प्रमुख धर्म स्थल है। इसके बाहर अतिक्रमण होने से श्रद्धालू परेशान होते हैं। कई बार शिकायत की जा चुकी है। सम्बिन्धत विभाग ध्यान नहीं दे रहें है। समाज अब इस मामले को लेकर उग्र आन्दोलन करेगा।
रिखब चंद सिंगी, संघपति

ठेलों के कारण दुर्गंध व शोर-शराबे का वातावरण रहता है। लोग अपने वाहन मणिपुंज के द्वार पर ही खडे कर देते हैं इससे श्रद्धालुओं को परेशानी होती है।
ताराचंद करनावट, संयोजक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...BOXER Died in Live Match: लाइव मैच में बॉक्सर ने गंवाई जान, देखें वायरल वीडियोBRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर, उठाया आतंकवाद का मुद्दासीएम मान ने अमित शाह से मुलाकात के बाद कहा-पंजाब में तैनात होंगे 2,000 और सुरक्षाकर्मीIPL 2022, RCB vs GT: Virat Kohli का तूफान, RCB ने जीता मुकाबला, प्लेऑफ की उम्मीदों को लगे पंखVirat Kohli की कप्तानी पर दिग्गज भारतीय क्रिकेटर ने उठाए सवाल, कहा-खिलाड़ियों का समर्थन नहीं कियादिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रिया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.