चोरी का नया फंडा..पहले किया शोरूम पर बैनर लगाने का नाटक, फिर शटर खोलकर उड़ाए मोबाइल

Manish Kumar Singh

Publish: Nov, 15 2017 08:55:11 (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
चोरी का नया फंडा..पहले किया शोरूम पर बैनर लगाने का नाटक, फिर शटर खोलकर उड़ाए मोबाइल

मोबाइल फोन के कीमती हैंडसेट समेट कर ले गए। लेकिन चोर गिरोह की करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

चोरी के अब तक आपने पारम्परिक तरीके ही देखे सुने होंगे। लेकिन अजमेर में चोरों ने नए फंडे से चोरी की वारदात अंजाम दी। सुबह 6 बजे पुलिस का गश्ती दल के अपने-अपने ठिकानों पर लौटने और नगर निगम की स्ट्रीट लाइट बंद होते ही चोर गिरोह ने शातिराना अंदाज में इलेक्ट्रोनिक्स उत्पाद के शोरूम में वारदात अंजाम दे डाली।

चोर गिरोह शोरूम के शटर के सामने बैनर लगाने का स्वांग करते रहे जबकि बैनर की आड़ में साथी शटर तोड़कर दाखिल हो गए। कुछ मिनट में काउंटर में रखे मोबाइल फोन के कीमती हैंडसेट समेट कर ले गए। लेकिन चोर गिरोह की करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

मार्टिण्डल ब्रिज स्टेशन रोड स्थित तिरूपति इलेक्ट्रोनिक्स में सुबह सवा 6 बजे चोर गिरोह के 7-8 लोग बड़ा बैनर लेकर पहुंचे। गिरोह के कुछ लोगों ने शोरूम के शटर के सामने बैनर खोल दिया और बैनर लगाने की तैयारी का दिखावा करने लगे। वहीं गिरोह के 3-4 लोगों ने बैनर की आड़ में शोरूम का शटर ऊंचा कर दिया और से एक भीतर दाखिल हो गया।

चंद मिनटों में 24 मल्टीमीडिया मोबाइल हैंडसेट समेट कर वह बाहर आ गया। चोर शोरूम से करीब साढ़े 4 लाख रुपए के मोबाइल हैंडसेट चुरा कर लेकर गए। सुबह शोरूम संचालक अनिल अरोड़ा शोरूम पहुंचा तो शटर ऊंचा नजर आया। सूचना पर क्लॉक टावर थाना पुलिस पहुंची। पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। अरोड़ा की शिकायत पर पुलिस ने चोरी का मामला दर्जकर लिया।

सात युवक थे वारदात में शामिल
सीसीटीवी में 7 युवक नजर आए। अधिकांश की उम्र करीब 20 से 25 साल है। चोर गिरोह किसके संगठन का बैनर लेकर आए यह नजर नहीं आया लेकिन उनके सामने से लोग पैदल मॉर्निंग वॉक पर गुजरते रहे लेकिन किसी ने भी ठहर कर देखना मुनासिब नहीं समझा।

बैनर का इस्तेमाल
यह पहला मामला है जब बैनर की आड़ लगाकर चोरी की वारदात अंजाम दी गई। वारदात भी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। वारदात अंजाम देने वाले गिरोह के कुछ लोगों की तस्वीरें सीसीटीवी फुटेज में साफ नजर आ रही है। पुलिस आरोपितों की तलाश में जुटी है।

उजाले से पहले बत्ती बंद
चोरी की वारदात में एक बात यह भी सामने आई कि सुबह उजाला होने से पहले नगर निगम की स्ट्रीट लाइट्स बंद हो जाती हंै। वहीं पुलिस की गश्त में शामिल पुलिस के जवान भी 5 बजने के साथ थाने-चौकी लौट जाते हैं। पुलिस की गैरमौजूदगी में चोर बेखौफ होकर वारदात अंजाम देकर निकल गए। खास बात है कि गत दिनों क्लॉक टावर थाना क्षेत्र में ही यूपी की गैंग ने सुबह 9 बजे लूट की वारदात अंजाम दी थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned