कार्यभार संभाला और निकल पड़े चिकित्सा व्यवस्थाओं का जायजा लेने

जिला कलक्टर ने रात 8 बजे संभाला पदभार, 9 बजे पहुंच गए जेएलएन अस्पताल, कोविड केयर सेंटर सहित स्वास्थ्य केंद्रों का भी किया निरीक्षण, प्रत्येक शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध होगी सैम्पलिंग की सुविधा

By: CP

Updated: 07 Jul 2020, 02:10 AM IST

अजमेर. नव नियुक्त जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित देर शाम कार्यभार संभालने के तुरंत बाद ही शहर में चिकित्सा व्यवस्थाओं का जायजा लेने निकल पड़े। उन्होंने रात करीब 9 बजे से 10.30 बजे तक जवाहरलाल नेहरू अस्पताल सहित विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में जाकर निरीक्षण किया और कोरोना मरीजों के लिए की गए इंतजामों की जानकारी ली। उन्होंने गम्भीर बीमारों की चिकित्सा पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए हैं।

जिला कलक्टर पुरोहित सबसे पहले जेएलएन अस्पताल में संदिग्ध कोरोना मरीजों के वार्ड में पहुंचे। यहां उन्होंने मरीजों से बातचीत की और सुविधाओं एवं व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने प्रत्येक संदिग्ध मरीज को पर्याप्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो सके, इसके लिए 100 बैड तैयार करने के लिए अस्पताल प्रशासन को निर्देश दिए हैं। उन्होंने संक्रामक रोग विभाग का भी निरीक्षण किया।

इसके बाद वे कायड़ स्थित कोविड केयर सेन्टर पहुंचे। वहां कार्यरत स्टाफ से चर्चा कर मरीजों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। साथ ही स्टाफ के स्वास्थ्य बारे में जाना।

इसके अलावा पुरोहित ने राजकीय शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पंचशील, रामनगर, वैशाली नगर एवं कोटड़ा का भी निरीक्षण किया। उन्होंने इन केन्द्रों के साथ-साथ समस्त शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर भी लैब तकनीशियन को तुरन्त उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं। इन केन्द्रों पर इन्फूलन्जा लाईक इलनेस (आईएलआई) के लक्षणों वाले मरीजों की सैम्पलिंग मौंके पर ही करने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाश चन्द्र शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.के.सोनी, अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसएस जोधा, कोविड प्रभारी डॉ. संजीव माहेश्वरी सहित अन्य अधिकारी एवं चिकित्सक मौजूद रहे।

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned