scriptTourist misbehaved, police kept roaming in the name of action | पर्यटक से बदसलूकी, कार्रवाई के नाम पर घूमाती रही पुलिस! | Patrika News

पर्यटक से बदसलूकी, कार्रवाई के नाम पर घूमाती रही पुलिस!

-छत्तीसगढ़ के पर्यटक परिवार ने लगाया पुष्कर में बदसलूकी का आरोप, पुलिस कन्ट्रोल रूम के बाद भी काटता रहा चक्कर

 

अजमेर

Published: November 18, 2021 02:29:21 am

मनीष कुमार सिंह.

अजमेर. धार्मिक नगरी में छत्तीसगढ़ से आया एक परिवार बुधवार दोपहर पुष्कर मेले में घूमने पहुंचा। उन्होंने वहां डेजर्ट सफारी का लुत्फ उठाने के लिए ऊंट गाड़ी चुनी मगर समय का अभाव बताकर रिसोर्ट संचालक ने जीप (थार) का विकल्प मुहैया कराया। जीप में मेला घूमने निकले परिवार के साथ पहले एक थार चालक और उसके साथियों ने बदसलूकी की। फिर पुष्कर से अजमेर तक पुलिस कार्रवाई के नाम पर उसे घूमाती रही। आखिर घटना से दु:खी पर्यटक परिवार गेस्ट हाउस लौट गया।
पर्यटक से बदसलूकी, कार्रवाई के नाम पर घूमाती रही पुलिस!
पर्यटक से बदसलूकी, कार्रवाई के नाम पर घूमाती रही पुलिस!
छत्तीसगढ़ महासमुंद सरायपाली शहर निवासी मोहम्मद शफीक ने बताया कि अजमेर में दरगाह जियारत के बाद वह वैन से पुष्कर के लिए रवाना हुए। वैन चालक उन्हें पुष्कर में एक रिसोर्ट लेकर पहुंचा। जहां रिसोर्ट से उन्होंने मेला क्षेत्र घूमने के लिए ढाई हजार रुपए में ऊंट गाड़ी ली लेकिन डेजर्ट सफारी की सैर करवाने वाले ने समय कम होने के चलते ऊंट गाड़ी के बजाए 700 रुपए ज्यादा देकर थार में घूमने का विकल्प दिया। ताकि कम समय में ज्यादा जगह घूम सके। मोहम्मद शफीक का आरोप है कि धोरों में एक पॉइंट घूमने के बाद चालक ने रफ्तार बढ़ा दी। इससे बच्चों के सिर में दर्द होने लगा तो उसने गति कम करने के लिए कहा लेकिन चालक माना नहीं। इस पर उसने वापस रिसोर्ट चलने की बात कही तो जीप चालक ने साथियों को बुलाकर हाथापाई की और उन्हें छोड़ गया।
अजमेर में देना शिकायत
शफीक के अनुसार घटना के बाद उसने पुलिस कन्ट्रोल से सम्पर्क किया। कन्ट्रोल रूम से उन्हें अजमेर आकर थाने में शिकायत देने की बात कही गई। इस पर वह गंज थाने चला गया। वहां उन्हें दरगाह थाने जाने के लिए कहा गया। वह दरगाह थाने भी गया। लेकिन इधर से उधर भटकने के बाद उसने गेस्ट हाउस पहुंचना ही ज्यादा मुनासिब समझा।
पैसे लौटाने का भी दबाव

शफीक का आरोप है कि अजमेर लौटने के दौरान वैन चालक के मोबाइल फोन पर रिसोर्ट संचालक ने कॉल कर पुलिस में शिकायत नहीं देने का दबाव बनाया। उसने सफारी का किराया भी वापस लौटाने की भी बात कही।
इनका कहना है...

पर्यटक के साथ बदसलूकी किया जाना गलत है। पीडि़त परिवार को सुना जाएगा। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
विकास शर्मा, पुलिस अधीक्षक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.