मजे से अवैध बजरी खनन कर रहे थे माफिया,रेत का टीला ढहते ही ट्रैक्टर ट्रॉली पानी में जा डूबी

सागरमती नदी में अवैध बजरी खनन से बनी गहरी खाइयां, रेत का टीला गिरते ही मजदूरों ने भागकर बचाई जान, हादसे के बाद जेसीबी की सहायता से ट्रैक्टर-ट्रॉली को निकाला बाहर, दुर्घटना से अनजान बना रहा उपखंड प्रशासन और पुलिस

By: suresh bharti

Updated: 16 Sep 2020, 11:36 PM IST

ajmer अजमेर. बजरी माफिया हद से बाज नहीं आ रहे। नदी-नालों से इस कदर बजरी खनन कर रहे हैं कि सपाट नदियों के बीच गहरी खाइयां बन गई है। किनारे गहरे हो गए। इसके चलते हादसे भी बढ़ रहे हैं। बुधवार को अजमेर जिले के पीसांगन क्षेत्र में रेता ढहने से हुआ हादसा इसका उदाहरण है। यहां बजरी खनन करते समय रेत का टीला अचानक ट्रैक्टर ट्रॉली पर आ गिरा। ऐसे में ट्रॉली पानी में डूब गई। घटनास्थल से मजदूरों ने जैसे-तैसे जान बचाई।

पीसांगन उपखंड के रामपुरा-डाबला रोड स्थित विनायकजी की बावड़ी समीप सागरमती नदी में बुधवार को रेत का टीला ढहते ही ट्रैक्टर-ट्रॉली पानी में डूब गई। बाद जेसीबी की सहायता से ट्रैक्टर-ट्रॉली को पानी से बाहर निकलवाया।

सागरमती नदी में इन दिनों पानी की अच्छी आवक

अजमेर के आनासागर एस्कैप चैनल से बहकर आने वाले पानी की सागरमती नदी में इन दिनों अच्छी आवक है। यह पानी पीसांगन स्थित भोपाजी वाले एनीकट आ पहुंचा है। इससे बुधवार तड़के भोपाजी वाले एनिकट की चादर चल पड़ी। यह पानी बजरी माफिया की ओर से किए गहरे गड्ढ़ों में भर रहा है।

रेत का टीला ढह गया

बुधवार को अवैध खननकर्ता ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर खनन करने पहुंचे थे। इसी दौरान गहरे गड्ढे में पानी भर जाने से रेत का टीला ढह गया। तेज बहाव से बजरी खनन के गड्ढे में पानी भर गया। यह देख बजरी खननकर्ता ट्रैक्टर-ट्रॉली को छोड़कर गड्ढे से बाहर भागे। थोड़ी ही देर में ट्रैक्टर-ट्रॉली पानी में डूब गई। ग्रामीणों ने बताया कि खनन माफिया बेखौफ होकर दिन-रात ट्रैक्टर ट्रॉली से बजरी खनन करने में जुटे हैं।

हौसले बुलन्द

प्रशासन की अनदेखी से इनके हौसले बुलन्द हैं। उधर, घटना से अनभिज्ञता जाहिर करते हुए पीसांगन के एसडीएम समंदरसिंह भाटी ने कहा कि मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। यदि ऐसी बात है तो चोरी-छिपे जो भी बजरी खनन कर रहा है। उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned