भतीजा ही निकला चाचा के घर से चोरी का आरोपी, पुलिस ने दो जनों को दबोचा,जेवरात व नकदी बरामद

पीडि़त ने नजदीक के रिश्तेदार या परिचित पर जताई थी आशंका,पुलिस जांच व पूछताछ में पुष्टि होने पर दो आरोपियों को किया गिरफ्तार, पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए दो इसी गांव में दो अन्य स्थानों पर भी की चोरी

By: suresh bharti

Published: 05 Feb 2021, 12:24 AM IST

अजमेर/केकड़ी. केकड़ी थाना पुलिस ने पिछले दिनों गुलगांव में तीन स्थानों पर हुई चोरी की वारदातों का खुलासा करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। थानाधिकारी बृजेश मीणा ने बताया कि गुलगांव निवासी अशोक उर्फ नरेन्द्र कुमार जैन ने गत दिनों रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 25 जनवरी की रात को चोरों ने दुकान के ताले तोडकऱ 5 हजार रुपए नकद व परचूनी सामानों पर हाथ साफ कर दिया। इसी प्रकार बशीर मोहम्मद के मकान से पांच लाख रुपए नकदी व करीब 10 तोला सोने के जेवरात एवं राजूलाल दरोगा के मकान से मोटरसाइकिल चोरी की वारदात भी हुई थी।

6 लाख रुपए के जेवरात, 73 हजार रुपए नकद व बाइक बरामद

अनुसंधान के दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि वारदात में परिवार का कोई नजदीकी सदस्य शामिल है। पुलिस ने गुलगांव निवासी अरमान उर्फ बिट्टू एवं चपरासी कॉलोनी, गायत्री नगर भीलवाड़ा निवासी अजीज मोहम्मद से पूछताछ की तो, उन्होंने वारदात कबूल कर ली। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर करीब 6 लाख रुपए के जेवरात, 73 हजार रुपए नकद व मोटरसाइकिल बरामद की है। पुलिस अधीक्षक जगदीश चन्द्र शर्मा के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक घनश्याम शर्मा व पुलिस उप अधीक्षक खींवसिंह राठौड़ के निर्देशन में गठित टीम में थानाधिकारी बृजेश मीणा, हैड कांस्टेबल रामस्वरूप, कांस्टेबल रामराज सामरिया, शुभकरण, राकेश व पवन कुमार शामिल है।

आरोपी है रिश्ते में भतीजा

पुलिस के अनुसार पीडि़त बशीर मोहम्मद व आरोपी अरमान आपस में चाचा-भतीजा है। वारदात के बाद किसी को उस पर शक नहीं हो, इसलिए उसने चाचा के घर में चोरी करने के अलावा दूसरे घर व दुकान में भी चोरी की। पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए उन्होंने वारदात को पेशेवर गैंग द्वारा की गई वारदात की तरह अंजाम दिया।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned