किशनगढ़ में वाहनों से तेल चोरी गिरोह के दो युवक दबोचे, सहवा में मिलावटी डीजल टैंकर जब्त

जिले के किशनगढ़ थाना क्षेत्र के एनएच-८ पर खड़े वाहनों से चोरी छिपे डीजल चुराने वाले गिरोह के दो गुर्गों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इन्हें शनिवार को अदालत में पेश किया, जहां से पूछताछ के लिए रिमांड पर सौंप दिया गया।

By: suresh bharti

Published: 10 Jan 2021, 01:19 AM IST

अजमेर. जिले के किशनगढ़ थाना क्षेत्र के एनएच-८ पर खड़े वाहनों से चोरी छिपे डीजल चुराने वाले गिरोह के दो गुर्गों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इन्हें शनिवार को अदालत में पेश किया, जहां से पूछताछ के लिए रिमांड पर सौंप दिया गया।
नागौर के रियांबड़ी क्षेत्र स्थित ढाणीपुरा निवासी ट्रेलर चालक एवं मालिक चेनाराम यादव (४८) ने 8 जनवरी को पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसमें चालक चेनाराम ने बताया कि उसने टे्रलर 7 जनवरी को शाम 5 बजे नेशनल हाइवे स्थित पाराशर मिनरल्स फैक्ट्री के सामने खड़ा कर दिया।

60 लीटर डीजल ले गए

इसमें से मध्यरात्रि को चोर गिरोह टैंक से 60 लीटर डीजल ले गए। किशनगढ़ थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर गिरोह की तलाश शुरू कर दी। एडिशनल एसपी किशनसिंह भाटी और डिप्टी भूपेन्द्र शर्मा के सुपरविजन और सीआई बंशीलाल पंडेर की अगुवाई में पुलिस ने टीम गठित कर अनुसंधान शुरू किया गया। पुलिस टीम ने हाइवे पर खड़े वाहनों से डीजल चुराने वाले गिरोह के दो गुर्गों लखन सिसोदिया और इमरान को गिरफ्तार कर लिया, जबकि अन्य को लेकर पूछताछ की जा रही है।

ऐसे दी वारदात अंजाम

सीआई बंशीलाल पंडेर ने बताया कि मुखबिर के जरिए डीजल चोर गिरोह की तलाश शुरू की गई और शाहजहांपुर निवासी डीजल चोर गिरोह के गुर्गे लखन सिसोदिया (35) एवं उज्जैन के मंगलनगर निवासी इमरान (36) को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस पूछताछ में इन दोनों आरोपितों ने बताया कि वे और इनके साथी मध्यप्रदेश के शाहजहांपुर से एक ट्रक में डीजल चोरी की वारदात में प्रयुक्त होने वाले औजार और उपकरण रख कर चलते हैं।

हाइवे पर सुनसान जगह एवं होटल ढाबों पर खड़े ट्रक और ट्रेलर में से मौका पाकर डीजल टैंक का ताला तोड़ते हैं। फिर उसमें से ट्रक में फिट मोटरयुक्त पाइप के माध्यम से आसानी से डीजल ड्रमों में भर लेते हैं। गिरोह वारदात में बड़ा ट्रक इस्तेमाल करते हैं, ताकि किसी को इन पर शक नहीं हो। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त ट्रक, ड्रमों में भरा 60 लीटर डीजल और खाली ड्रम, पाइप व मोटर बरामद कर ली है

भालेरी पुलिस ने पकड़ा मिलावटी डीजल

चूरू/साहवा. पुलिस व रसद विभाग में अवैध रूप से डीजल बेचने वालों के खिलाफ अभियान शुरू किया है। भालेरी पुलिस ने शुक्रवार रात ८ हजार ८ सौ लीटर मिलावटी डीजल सहित एक टैंकर जब्त किया है। पुलिस थाना भालेरी के एएसआई विजेन्द्र शर्मा ने बताया कि शुक्रवार आधी रात बाद मुखबिर ने भालेरी सरदारशहर सडक़ किनारे रिणवां पट्रोल पम्प पर मिलावटी डीजल से भरे टैंकर की सूचना दी थी। इस पर रसद अधिकारी चूरू को जानकारी देकर जांच की। टैंकर में डीजल भरा हुआ था। इजिस पर टैंकर को पुलिस थाना भालेरी में लाकर चूरू जिला रसद अधिकारी सुरेन्द्र महला के नेतृत्व में संयुक्त कार्रवाई कर माप किया। टैंकर में उसमें करीब 8 हजार ८ सौ लीटर मिलावटी डीजलभरा हुआ मिला। इसके नमूने लेकर डीजल व टैंकर को जब्त कर लिया।

टैंकर मालिक के खिलाफ मामला दर्ज

पुलिस ने बताया कि यह टैंकर गुजरात से हरियाणा के सिरसा जा रहा था। इसमें के. के.कम्पनी के नाम से बिल आदि कुछ कागजात भी मिले बताए, वहीं पुलिस व रसद विभाग ने टैंकर की सप्लाई किसी स्थानीय पट्रोल पम्प पर किए जाने की भी शंकाएं थी। इसके चलते वहां के एक पट्रोल पम्प के टैंक से भी रसद विभाग ने डीजल के नमूने लिए।

जुर्माना राशि ले

कर छोड़ा

इसी प्रकार गुरुवार रात साहवा पुलिस ने हरियाणा से अवैध डीजल व पट्रोल लेकर आ रही एक जीप को १६ सौ लीटर डीजल व ९० लीटर पट्रोल के साथ जब्त किया था, जिसे शनिवार को ६७ हजार १ सौ ६८ रुपए की टैक्स पैनल्टी व 8 सौ रुपए चालान राशि वसूल कर छोड़ दिया गया। पुलिस के अनुसार जीप में मिले डीजल व पट्रोल को टैक्स चोरी मानते हुए सैल टैक्स विभाग बीकानेर के जेसीटीओ चन्द्रशेखर ने शनिवार को साहवा पुलिस थाना आए। रसीद काट कर छोड़ दिया। वहीं जीप के कागज पेश करने पर पुलिस ने ८ सौ रुपए की चालान राशि वसूल की।शक के घेरे में एक पट्रोल पम्प मालिकशनिवार को भालेरी पुलिस की ओर से जब्त मिलावटी डीजल से भरा टैंकर का रजिस्टेशन चूरू का है। उसके मालिक का भालेरी में पट्रोल पम्प भी है। इससे मामला और भी गहराता जा रहा है। अन्य पट्रोल पम्प मालिकों का कहना है कि यह डीजल कहीं मिलावट के लिए लाया गया था जो मामला पकड़े जाने पर इसे छुपाया जा रहा है।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned