सर्दी में भी गर्मी का एहसास...पानी के लिए लोग भागते फिर रहे इधर-उधर

www.patrika.com/rajasthan-news

By: raktim tiwari

Published: 18 Dec 2018, 08:54 AM IST

अजमेर/ब्यावर/मदनगंज-किशनगढ़.

पूरे जिले में पानी की किल्लत बरकरार है। सर्दी में गर्मी का एहसास होने लगा है। जिले का कोई शहर या गांव ऐसा नहीं है, जहां पानी के लिए लोग परेशान नहीं हैं। किशनगढ़ का सांवतसर क्षेत्र के रैगर मोहल्ला हो या अजमेर के अंदरूनी इलाके या ब्यावर की बाहरी कॉलोनियां..सब जगह पेयजल संकट बना हुआ है। यहां 4 से 5 दिन में जलापूर्ति हो रही है। कई बार कम दबाव और आपूर्ति होने के कारण समस्या और बढ़ जाती है।

किशनगढ़, ब्यावर, सहित अजमेर में पानी की समस्या बनी हुई है। यह क्षेत्र ऊंचाई पर है इसलिए यहां तेज दबाव से जलापूर्ति नहीं हो पाती है। कम दबाव से जलापूर्ति होने के कारण यहां कम पानी आता है और लोगों की परेशानी बढ़ जाती है।

पुरानी लाइन से जलापूर्ति

कई जगह पानी की टंकी बनने के बावजूद पुरानी लाइन से ही जलापूर्ति हो रही है। लोगों का का कहना है कि नई टंकियों का निर्माण होने के बाद महीने भर में केवल एक बार ही नई लाइनों से जलापूर्ति होती है, इसलिए समस्या बनी हुई है।

बंद पड़ा है हैंडपंप

जिले भर में कई जगह हैंडपंप बंद पड़े हैं। इससे लोगों की परेशानी और बढ़ गई है। हैंडपंप बंद होने के कारण दूसरी जगह पानी भरने के लिए जाना पड़ता है। पानी की आवश्यकता पूरी करने के लिए टैंकर खरीदकर लाना पड़ता है।

 

पेयजल की कम आपूर्ति के कारण पानी की कमी बनी रहती है। इस कारण टैंकरों से पानी खरीदना मजबूरी बनी हुई है।

हुकमचंद
मोहल्ला ऊंचाई पर होने के कारण पानी की आपूर्ति कम होती है। यहां पानी की आपूर्ति सुधरनी चाहिए।

भैरूलाल मालाकार

Show More
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned