scriptWeather: Hotest March in 10 years, April in pipe Line | Weather: 10 साल में सबसे गर्म मार्च, अब जमकर तपेगा अप्रेल | Patrika News

Weather: 10 साल में सबसे गर्म मार्च, अब जमकर तपेगा अप्रेल

कड़क धूप ने लोगों के पसीने छुड़ा दिए। शाम तक गर्मी ने चैन नहीं लेने दिया।

अजमेर

Updated: March 31, 2022 06:31:00 pm

अजमेर. मार्च के अंतिम दिन सूरज ने जमकर तमतमाया। गुरुवार को तपती धूप में सड़कों पर चहल-पहल सिमटी रही। अधिकतम तापमान 40.0 डिग्री सेल्सियस रहा। लगातार तीसरे दिन पारे का ग्राफ 39 डिग्री से नीचे नहीं उतरा है।
hot weather in ajmer
hot weather in ajmer
सुबह 8 बजे बाद ही गर्मी का असर देखने को मिला। ज्यों-ज्यों दिन चढ़ा सूरज की गर्माहट बढ़ती चली गई। कड़क धूप ने लोगों के पसीने छुड़ा दिए। शाम तक गर्मी ने चैन नहीं लेने दिया। सूरज की गर्माहट ने अप्रेल-मई सा एहसास करा दिया। दिनभर ठंडक का कहीं एहसास भी नहीं हुआ। न्यूनतम तापमान 22.9 डिग्री सेल्सियस रहा।
10 साल में सबसे गर्म मार्च

सूरज की प्रचंडता के चलते साल 2022 का मार्च सबसे गर्म रहा है। 29 मार्च को तापमान 40.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था। यह पिछले दस साल में मार्च का सर्वाधिक तापमान रहा।
Read more: नई शिक्षा नीति होगी युवाओं के लिए मददगार

अजमेर. भारत सदियों पूर्व विश्व गुरू रहा है। हमारी प्राचीन शिक्षा-दीक्षा और गुरुकुल प्रणाली ने दुनिया को राह दिखाई है। नई शिक्षा नीति युवाओं और विद्यार्थियों के लिए मददगार साबित होगी। यह बात केंद्रीय पर्यटन, बंदरगाह और जहाजरानी राज्यमंत्री श्रीपद नाइक ने देहली वर्ल्ड पब्लिक स्कूल में चौथे वार्षिकोत्सव के दौरान पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही।
नाइक ने कहा कि शिक्षा में कॅरिअर के साथ-साथ संस्कारों और मूल्यों का समावेश जरूरी है। हमारा देश लोककला, विविधता, प्राचीन परम्पराओं, वेदज्ञान और गुरुकुल शिक्षा प्रणाली के कारण समृद्ध रहा है। हमें फिर से उस गौरव को हासिल करना है। केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति -2020 उसी दिशा में प्रयास है। शिक्षा के साथ-साथ हमें कला, संस्कृति, भाषायी विविधता, खान-पान को भी जानना जरूरी है।
नाइक ने कहा कि शिक्षा में कॅरिअर के साथ-साथ संस्कारों और मूल्यों का समावेश जरूरी है। हमारा देश लोककला, विविधता, प्राचीन परम्पराओं, वेदज्ञान और गुरुकुल शिक्षा प्रणाली के कारण समृद्ध रहा है। हमें फिर से उस गौरव को हासिल करना है। केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति -2020 उसी दिशा में प्रयास है। शिक्षा के साथ-साथ हमें कला, संस्कृति, भाषायी विविधता, खान-पान को भी जानना जरूरी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिंदे खेमे में आ चुके हैं सरकार बनाने भर के विधायक! फिर क्यों बीजेपी नहीं खोल रही अपने पत्ते?Maharashtra Political Crisis: ‘मातोश्री’ में मंथन! सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMaharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीBharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.