पत्नी के चरित्र पर शक था, बाइक पर रात को मायके जाकर केरोसिन उंडेल उसे जिंदा जला दिया

ब्यूटी पार्लर संचालिका पत्नी से पति की थी अनबन, मिया-बीवी में विवाद के चलते पत्नी रहती थी पीहर, आरोपी पति ने जुर्म कबूला, 3 मार्च की घटना के बाद झुलसी विवाहिता ने 5 मार्च को तोड़ दिया था दम

By: suresh bharti

Published: 17 Mar 2021, 12:49 AM IST

झुंझुनूं/हनुमानगढ़. घर-घर में मिया-बीवी के झगड़े,तकरार और तनाव आम बात है। फिर भी रिश्तों में इतनी खटास नहीं आती कि हत्या जैसी नौबत आ जाए,लेकिन अब समय बदल रहा है। कहीं पति ही अपना सुहाग उजाड़ रही है तो कहीं पति अपनी बीवी को मौत के घाट उतारने से भी नहीं हिचकिचा रहा। झुंझुनूं जिले की हुक्मा की ढाणी निवासी एक शख्स ने अपनी बीवी की हत्या चरित्र पर शक के चलते कर दी। आरोपी ने अपना जुर्म भी कूबल कर लिया।

पुलिस जांच में पति ही हत्यारा निकला

आरोपी हनुमानगढ़ जिले के गोलूवाला में आरोपी मोटरसाइकिल के जरिए पहुंचा। चुपचाप रात को घर में घुसकर पहले पत्नी वाले कमरे के गेट पर केरोसिन उंडेला। फिर बीवी को आवाज देकर बाहर बुलाया। जैसे ही बीवी गेट खोलकर आई। तभी आरोपी ने माचिस की तिली से आग लगा दी। अचानक हुए घटनाक्रम को पत्नी समझ नहीं पाई और आग की लपटों में झुलस गई। हत्या का आरोप पहले महिला के परिचित युवक पर लगाया गया था, लेकिन पुलिस जांच में पति ही हत्यारा निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

प्रदीप बिश्नोई पर लगाया आरोप निकला झूठा

जिला पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन ने बताया कि गोलूवाला निवासी ब्यूटी पार्लर संचालिका की हत्या के आरोप में उसके पति कृष्ण कुमार को गिरफ्तार किया है। प्राथमिकी में नामजद आरोपी प्रदीप बिश्नोई निवासी गोलूवाला की प्रकरण में संलिप्तता नहीं पाई गई है। गिरफ्तार आरोपी कृष्ण कुमार ने पत्नी के स्वयं से अलग रहने, उसके चरित्र को लेकर तरह-तरह की बातें सुनने, कहना नहीं मानने, उसे सबक सिखाने आदि कारणों के चलते उसकी हत्या करना स्वीकारा है।

एसपी ने बताया कि घटना के हबाद से पुलिस टीम ने आरोपी कृष्ण कुमार के गांव में उस पर नजर रखी। गहन तकनीकी पड़ताल, मुखबिरों की सूचना, आरोपी के हाव-भाव, गांव से गैर हाजिर रहने आदि के आधार पर उसे गिरफ्तार किया गया।

यूं दिया वारदात को अंजाम

एसपी जैन ने बताया कि आरोपी कृष्ण कुमार मोटरसाइकिल पर झुंझुनूं से गोलूवाला आया। फिर तीन मार्च की रात दीवार फांदकर घर में घुसा। उसे पता था कि आगे वाले कमरे में उसका ***** सो रहा है। इसलिए वारदात स्थल से ही रस्सी (निवार) लेकर कमरे के किवाड़ों पर बांध दी, ताकि वह खोल कर बाहर नहीं आ सके। इसके बाद पत्नी जिस कमरे में सो रही थी।

उसके दरवाजे पर केरोसिन छिडक़ा। पत्नी को आवाज देकर बुलाया। जब वह बाहर आई तो आग लगा दी। इसके बाद आरोपी फरार हो गया। मृतका की नानी, उसकी नाबालिग पुत्री आदि ने आग बुझाकर उसे पुलिस की मदद से अस्पताल पहुंचाया। आरोपी कृष्ण कुमार रात को ही बाइक से झुंझुनू चला गया।

क्या रहा पूरा घटनाक्रम

पीडि़ता की नानी ने 4 मार्च को गोलूवाला थाने में मामला दर्ज कराकर बताया कि ब्यूटी पार्लर चलाने वाली उसकी दोहिती से प्रदीप बिश्नोई निवासी गोलूवाला रंजिश रखता है। संदेह है कि 3 मार्च को देर रात प्रदीप ने ही घर में घुसकर दोहिती को जलाकर मारने का प्रयास किया।

विवाहिता को झुलसी अवस्था में पहले श्रीगंगानगर एवं बीकानेर तथा बाद में जयपुर रेफर कर दिया गया। जयपुर के एसएमएस अस्पताल में विवाहिता ने 5 मार्च को देर रात दम तोड़ दिया। उसका शव छह मार्च की रात यहां लाया गया। फिर सात मार्च को गोलूवाला में दाह संस्कार कराया गया। मृतका के परिजन को राज्य सरकार की ओर से पांच लाख रुपए की सहायता राशि का चेक छह मार्च को जिला प्रभारी मंत्री ने उसके घर जाकर सौंपा।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned