खुद का सिंदूर उजाड़ा, पति की हत्या कर दो दिन शव छिपाया, दुर्गंध फैली तब पुलिस को बुलाया...

गृह क्लेश से तंग आकर पत्नी ने पति के गले में रस्सी बांध कर दी हत्या, शव को पलंग की आड में छिपाए रखा, बाद में पुलिस को फोन कर बताया- मैने पति की हत्या कर दी...

By: suresh bharti

Updated: 22 Sep 2020, 11:20 PM IST

अजमेर/चूरू. घर-घर में पति-पत्नी के बीच किसमें झगड़ा नहीं होता। फर्क सिर्फ इतना है कि कोई क्षणिक होता है तो कुछ गहरे क्लेश से भरे होते हैं। गुस्से में आकर पति की ओर से पत्नी की हत्या, मारपीट व अन्य वारदात की खबरें तो आती रही है, लेकिन एक पत्नी अपना खुद का सिंदूर उजाड़ दे। ऐसी घटना बहुत कम पढऩे व सुनने को मिलती है।

एकबारगी तो पुलिस को भरोसा ही नहीं हुआ

चूरू जिले के सादुलपुर उपखंड क्षेत्र स्थित हमीरवास थानान्तर्गत गांव सांखणताल में ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है। ताज्जुब की बात तो यह है कि पत्नी ने पहले तो अपने सुहाग की गले में रस्सी बांधकर हत्या कर दी। बाद में शव को दो दिन तक पलंग की आड में छिपाए रखा, लेकिन शव से दुर्गुंध आने लगी तो खुद पत्नी ने पुलिस को फोन कर बता दिया कि उसने पति की गले में रस्सी बाध हत्या कर दी है...। यह सुनकर एकबारगी तो पुलिस को भरोसा ही नहीं हुआ, लेकिन मौके पर जाकर देखा तो पुलिकर्मी वहां का नजारा देख सन्न रह गए।

गृह क्लेश असली वजह

जानकारों के अनुसार घरेलू कलह के चलते पत्नी ने पति की हत्या जैसा कदम उठाया। हमीरवास थानाधिकारी सुभाषचन्द्र ने बताया कि मृतक के भाई गांव सांखणताल निवासी अशोक कुमार ने मामला दर्ज कराया कि तीन भाइयों से सबसे छोटे मृतक निर्मल कुमार (34) वर्ष की शादी वर्ष 2011 में गांव झेरली निवासी नीरज के साथ हुई थी। निर्मल व उसके पिता खेत में ढाणी बनाकर रहते हैं। मृतक निर्मल व उसकी पत्नी नीरज का आए दिन आपस में झगड़ा होता रहता था।

दस दिन पहले नीरज अपने पति से झगड़ा कर पीहर गांव झेरली चली गई थी। दूसरे दिन उसका भाई दिनेश उसका वापस छोड़कर चला गया था। इसके बाद दोनो ंपति-पत्नी का झगड़ा कम नहीं हुआ। 22 सितम्बर को सुबह निर्मल का शव ढाणी में बने कमरे के फर्श पर पड़ा हुआ था। गले में रस्सी व शरीर व छाती पर नीला निशान था।

रात को पति-पत्नी में हुई मारपीट

मृतक के पिता ने बताया कि निर्मल व उसकी पत्नी नीरज 20 सितम्बर की रात को साढ़े दस बजे आपस में झगड़ा कर रहे थे। उनको छुड़ाने की कोशिश की तो दोनों ने मुझ पर भी हमला कर दिया। तब वह कमरे से वापस चला गया। आरोप है कि 20 सितम्बर की रात्रि को निर्मल की पत्नी ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। पुलिस ने मृतक का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करा शव परिजन को सौंप दिया।

लाचार पिता रहा बेबस

मृतक निर्मल के बुजुर्ग पिता बेगराज भी लाचार और बेबस रहा। जब दोनों पति पत्नी रात के अंधेरे में एक-दूसरे को मारने-पीटने पर उतारू थे। बुजुर्ग पिता भी बीच-बचाव करने एवं झगड़ा शांत करने के लिए गया था। दोनों पति-पत्नी ने उसे जान से मारने की धमकी देकर कमरे से बाहर निकाल दिया। पिता को भी दो दिन तक बेटे की मौत का पता नही चल सका।

भाई का आरोप

मृतक के भाई अशोक कुमार ने बताया कि 20 सितम्बर की रात को उसका भाई निर्मल सोया हुआ था। तब पत्नी नीरज ने निर्मल के गले में रस्सा बांधकर हत्या कर दी। इस बात की भी शंका है कि अकेली महिला से यह घटना घटित नहीं हो सकती। अन्य भी कोई शामिल हो सकता है।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned