scriptYouth shying away from studying for free even in universities l | हार्वर्ड-ऑक्सफोर्ड और स्टेनफोर्ड जैसी यूनिवर्सिटी में भी नि:शुल्क पढऩे से कतरा रहे युवा | Patrika News

हार्वर्ड-ऑक्सफोर्ड और स्टेनफोर्ड जैसी यूनिवर्सिटी में भी नि:शुल्क पढऩे से कतरा रहे युवा

कोरोना इफेक्ट : विदेश में पढ़ाई के लिए उच्च शिक्षा विभाग को आवेदनों का इंतजार, सवा महीने में 17 ही आए, एक महीने और बढ़ाएंगे आवेदन की तारीख

 

अजमेर

Published: December 06, 2021 06:58:05 pm

कोरोना महामारी ने विदेश में पढ़ाई का रुझान कम कर दिया है। पहली, दूसरी और फिर तीसरी लहर के खतरे से युवा विदेश पढ़ाई करने से कतरा रहे हैं। स्थिति यह है कि अब विदेश में नि:शुल्क पढ़ाई का ऑफर लेने में भी युवा कतरा रहे हैं। उच्च शिक्षा विभाग की राजीव गांधी स्कॉलरशिप फॉर एकेडमिक एक्सीलेंस योजना-2021 के तहत आए आवेदनों की स्थिति इस तथ्य को बयां करती है। योजना के तहत सरकार ऑक्सफोर्ड, हार्वर्ड और स्टेनफोर्ड सहित विदेश की 50 यूनिवर्सिटी में पढ़ाई का खर्चा वहन कर रही है। इसके बाद भी सवा महीने में प्रदेशभर से महज सिर्फ 17 आवेदन आए हैं। योजना के तहत प्रति छात्र करीब 50 लाख रुपए दिए जाएंगे। योजना में 200 विद्यार्थियों को शामिल करना है। ऐसे में उच्च शिक्षा विभाग की चिंता बढ़ गई है। शेष 182 आवेदन लेने के लिए विभाग अब तीसरी बार आवेदन की तारीख बढ़ाने जा रहा है। 31 दिसंबर तक आवेदन नहीं आने की स्थिति में 31 जनवरी तक आवेदन लिए जाएंगे।
हार्वर्ड-ऑक्सफोर्ड जैसी यूनिवर्सिटी में भी नि:शुल्क पढऩे से कतरा रहे युवा
इन विषयों में मिलेगी स्कॉलरशिप

योजना के तहत ह्यूमैनिटीज, सोशल साइंस, एग्रीकल्चर एंड फोरेस्ट साइंस, नेचर एंड एनवायरमेंटल साइंस एवं लॉ के लिए 150, मैनेजमेंट एंड बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन एवं इकोनॉमिक्स एंड फाइनेंस के लिए 25 और प्योर साइंस एवं पब्लिक हेल्थ विषयों के लिए 25 विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप दी जाएगी। इन विषयों में स्थान रिक्त रहने की दशा में इंजीनियरिंग एंड रिलेटेड साइंस, मेडिसिन तथा एप्लाइड साइंस में अधिकतम 15 उमीदवारों को छात्रवृत्ति दी जा सकेगी।
योजना के बारे में खास-खास

-स्नातक स्तर, स्नातकोत्तर स्तर, पीएचडी और पोस्ट-डॉक्टोरल अनुसंधान कार्यक्रम के लिए निर्धारित विषयों में पढ़ाई करने वाले छात्रों को इसका लाभ मिलेगा।

- स्नातक स्तर के पाठ्यकमों के लिए, केवल मानविकी से संबंधित विषय ही मान्य होंगे।
- छात्र को उस देश के लिए वीजा प्राप्त करना होगा, जहां वह योजना के तहत पढऩे जा रहा है।

- किसी भी माता-पिता की एक से अधिक संतान छात्रवृत्ति के लिए पात्र नहीं होगी।
- गलत दस्तावेज से लाभ लिया तो 12 फीसदी ब्याज के साथ वसूली होगी।

-इसी के तहत आठ लाख सालाना से कम आय वाले परिवार के छात्रों को योजना का लाभ दिया जाएगा विदेश में पढ़ाई का घटता रुझान।
- 3.27 लाख छात्र कम हो गए विदेश में पढ़ाई करने वाले देश में।

- 5.88 लाख छात्र विदेश पढऩे गए थे 2019 में देश से।

- 2020 में 2.61 लाख छात्र गए थे विदेश पढऩे।
- 61 फीसदी छात्र विदेश की पढ़ाई को कोरोना के चलते टाल रहे हैं सर्वे के अनुसार।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: पावर प्ले में राजस्थान ने बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 52 रनसुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनOla-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.