दांतों के इलाज के संबंध में चौंकाने वाली जानकारी

दांतों की चिकित्सा एवं दांत बनाये जाने के विषय पर दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में शुरू हुई है।

By: मुकेश कुमार

Published: 09 Dec 2017, 09:22 PM IST

अलीगढ़। प्रख्यात प्रोस्थोडोन्टिक डॉ. हिमांशु ऐरन ने कहा कि स्वत्रंत शोध से यह पता चला है कि दांतों के रोगों के शिकार 90 प्रतिशत लोगों में से केवल 17 प्रतिशत लोग इलाज करा पाते हैं। उन्होंने कहा कि दांतों की चिकित्सा को सस्ता बनाने के साथ ही यह भी महत्वपूर्ण है कि दांतों के रोगों के सम्बन्ध में जन स्तर पर चेतना उत्पन्न की जाए। वे अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के डॉ. जेडए डेंटल कॉलेज के प्रोस्थोडोन्टिक विभाग में ओकायामा यूनिवर्सिटी जापान तथा इन्डिया प्रोस्थोडोन्टिक सोसायटी यूपी शाखा के सहयोग से दांतों की चिकित्सा एवं दांत बनाये जाने के विषय पर दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस का संबोधित कर रहे थे। उद्घाटन समारोह विश्वविद्यालय पॉलीटैक्निक में हुआ।

चिकित्सा विज्ञान का विकास
कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने उद्घाटन समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित करते हुए कहा कि गत 30 वर्षों में मौलिक विज्ञान में शोध के कारण दांतों की शल्य चिकित्सा तथा चिकित्सा विज्ञान में काफी विकास हुआ है। उन्होंने कहा फीजियोलोजी, बायोकेमिस्ट्री, अनाटमी तथा अन्य सम्बन्धित विषयों मे नई खोजों तथा शोध के कारण आधुनिक तकनीक ईजाद हुई है, जो रोगियों के लिये अत्यधिक सुरक्षित तथा भरोसेमंद है।

50 लाख रुपये मंजूर
प्रो. तारिक मंसूर ने कहा कि वह डेंटल कॉलेज में सुविधाओं के बेहतर बनाने के प्रति कटिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि डेंटल कॉलेज में उपकरणों के लिये 50 लाख रुपये मंजूर किये गये हैं। बड़ी धनराशि वैज्ञानिक पत्रिकाओं की खरीद के लिये भी दी गयी है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही पोस्ट ग्रेजुएशन की सीटें बढ़ाई जाएंगी। कुलपति ने कॉन्फ्रेंस की सफलता के लिये आयोजन समिति को बधाई प्रस्तुत की।


हुनरमंद विशेषज्ञ तैयार हो रहे
डॉ. जेडए डेंटल कॉलेज के प्रधानाचार्य प्रो. आरके तिवारी ने कहा कि मेडिसन संकाय तथा विश्वविद्यालय प्रशासन के सहयोग से डेंटल कॉलेज सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बन चुका है। उच्च स्तरीय शिक्षा उपलब्ध कराई जाती है। हुनरमंद विशेषज्ञ तैयार हो रहे हैं।

किया गया सम्मानित
इस अवसर पर जापान से आए डॉ. केनजीमाइकावा समेत अन्य वक्ताओं को कुलपति प्रो. तारिक मंसूर तथा आयोजन समिति द्वारा सम्मानित किया गया। प्रोस्थोडोन्टिक विभाग की पत्रिका तथा कांफ्रेंस सोवीनियर का भी विमोचन हुआ। इससे पूर्व प्रोस्थोडोन्टिक विभाग के अध्यक्ष तथा कार्यक्रम की आर्गेनाइजिंग चेयरमैन प्रो. गौरव सिंह ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किया। आयोजन सचिव प्रो. गीता राजपूत ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. श्रद्धा राठी ने किया। इस अवसर पर डॉ. पंकज खराठे तथा अन्य फैकल्टी सदस्य उपस्थित थे।

Show More
मुकेश कुमार
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned