अब उर्दू को Online सीखना होगा आसान, AMU ने तैयार किया स्वर चिह्नों का चार्ट

-सही उच्चारण के साथ स्वर चिह्नों का चार्ट तैयार किया
-नई नस्ल तक Urdu language की मिठास को पहुंचाने का प्रयास

-Urdu भाषा भारत की संयुक्त सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा

अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी के भाषा विज्ञान विभाग के तत्वाधान में पांच दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला आयोजित की गई। इसमें विशेष उर्दू अक्षरों के लिये स्वर चिह्नों का चार्ट तैयार किया गया, ताकि साधारण उर्दू जानने वालों तथा उर्दू के ऑनलाइन पाठकों के लिये इसे सरल बनाया जा सके। आशा की जा रही है कि इससे उर्दू एक बार फिर पूरी दुनिया में लोकप्रिय होगी।

यह भी पढ़ें

बेटी के साथ दुष्कर्म व केरोसिन डाल उसका प्राइवेट पार्ट जलाने वाले कलयुगी पिता को कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा

urdu

राष्ट्रीय कौन्सिल को सौंपेंगे
वर्कशाप के समापन समारोह में बंग्लोर से पधारी डॉ. जुबैदा बेगम ने भाषा विशेषज्ञों के द्वारा उर्दू अक्षरों के लिये तैयार किये गये रोमन अक्षरों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा इन स्वर इकाइयों को उर्दू भाषा के विकास के राष्ट्रीय कौन्सिल के सुपुर्द किया जाएगा ताकि उर्दू को अन्य भाषा भाषियों तथा अन्य क्षेत्रों के लोगों के लिये सरल तथा लोकप्रिय बनाया जा सके।

यह भी पढ़ें

Weather Alert: अचानक देने जा रही सर्दी और कोहरा दस्तक, अगले 24 घंटे में बारिश, जानिये मौसम का हाल

तकनीक के अनुरूप हो भाषा
आर्ट्स संकाय के अधिष्ठाता प्रो. मसूद अनवर अलवी ने कहा कि उर्दू भाषा भारत की संयुक्त सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा है। इसे देश के कोने-कोने तक पहुंचाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि आज के डिजिटल युग में भाषा को टेक्नालोजी के अनुरूप होना चाहिये ताकि नई नस्ल तक उर्दू भाषा की मिठास को पहुंचाया जा सके।

urdu

बंग्लोर की उर्दू कवयित्री डॉ. शाइस्ता यूसुफ का विचार था
कार्यक्रम के मानद् अतिथि प्रोफेसर कमरूल हुदा फरीदी ने कहा कि इस वर्कशाप से उर्दू को अधिक लोकप्रिय बनाने में सहायता मिलेगा। भाषा विज्ञान विभाग के प्रो. इम्तियाज हसनैन ने कहा कि उर्दू अक्षरों के लिये रोमन अक्षरों के संकलन का विचार बंग्लोर की उर्दू कवयित्री डॉ. शाइस्ता यूसुफ ने प्रस्तुत किया था। जिन्होंने इस सम्बन्ध में अमुवि के शिक्षकों से बात की तथा आज हमने उर्दू के विशेष अक्षरों के लिये चार्ट तैयार करने में कामयाबी प्राप्त की है।

यह भी पढ़ें

भाजपा के नए जिलाध्यक्ष घोषित, यहां देखें बृज क्षेत्र की पूरी सूची

उर्दू शब्दों के सही उच्चारण में मदद मिलेगी
भाषा विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रो. एम जहांगीर वारसी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि कार्यशाला में शब्दों के सही उच्चारण के साथ एक सम्पूर्ण स्वर चिन्हों का चार्ट तैयार किया गया है जिससे उर्दू न जानने अथवा कम जानने वाले लोगों को उर्दू शब्दों के सही उच्चारण में मदद मिलेगी। डॉ. नाजरीन बी लसकर ने कार्यक्रम का संचालन किया जबकि डॉ. अब्दुल अजीज खान ने धन्यवाद ज्ञापित किया। डॉ. शमीम फातिमा तथा सुश्री महविश मोहसिन ने वर्कशाप की रिपोर्ट प्रस्तुत की।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned