एएमयू के पुरातत्व विभाग से गायब हुईं कई सौ साल पुरानी कलाकृतियां

इतिहास विभाग के पुरातत्व म्यूजियम से इन कलाकृतियों को सहेजने के लिए रखा गया था।

By: मुकेश कुमार

Published: 25 Apr 2018, 05:34 PM IST

अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के इतिहास विभाग के पुरातत्व म्यूजियम से वर्षों पुरानी कलाकृतियां गायब हो गई हैं। म्यूजियम में इन कलाकृतियों को सहेजने के लिए रखा गया था। इस बात की जानकारी होने पर आनन-फ़ानन में इतिहास विभाग के चैयरमेन ने जांच कमेटी गठित की है, जो जांच करने के बाद अपनी रिपोर्ट देगी।


शिफ्टिंग के दौरान हुई गायब
पुरातत्व म्यूजियम से कई सौ साल पुरानी महत्वपूर्ण कलाकृतियों के गुम होने पर इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर सैय्यद अली नदीम रिज़वी ने कहा कि उनके चार्ज लेने के बाद इस डिपार्टमेंट को दिखवाया गया। जिसमें बहुत कुछ गड़बड़ी एक जगह से दूसरी जगह शिफ्टिंग करने के दौरान हुई थी। सामान शिफ़्ट करने के दौरान तोड़फोड़ भी हुई। कई स्टॉक रजिस्टर भी गायब हुए। इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही सही पता चल पाएगा कि कितना सामान गया है।

यह भी पढ़ें- पीड़िता के पिता ने कहा- आसाराम ने गवाह मरवा दिए, कइयों का अपहरण कराया, उनकी आत्मा को आज प्रसन्नता हुई होगी

एक हजार साल पुरानी थीं कलाकृतियां
विभागाध्यक्ष ने बताया कि इतिहास व पुरातत्व के नजरिये से गायब हुई कलाकृतियों की कीमत लाखों में है। इन गायब कलाकृतियों के महत्व को जो समझता है, वो इसकी कीमत आंक सकता है। लेकिन जो महत्व नहीं समझता उसके लिए कुछ भी नहीं है। ये कलाकृतियां चार सौ साल से लेकर एक हजार साल कर पुरानी हो सकती है। इन कलाकृतियों के जरिये सभ्यता के बारे में जानकारी मिलती है।

यह भी पढ़ें- आतंकवाद के खिलाफ फतवा जारी, उलेमा बोले- जिहाद के लिए भारत में जगह नहीं


लापरवाही से गायब हुई कलाकृतियां
उधर, पुरातत्व विभाग के इंचार्ज डॉक्टर एमके पुंढीर ने बताया कि उनकी देखरेख बिल्कुल भी ऐसा नहीं हुआ है। खुदाई के दौरान मिली प्राचीन काल की कलाकृतियां गायब होना निश्चित ही बहुत बड़ी लापरवाही है। इतिहास विभाग द्वारा इसकी जांच कराई जा रही है।

 

Show More
मुकेश कुमार
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned