Aligarh: मात्र 20 रुपए के लिए छोटे भाई ने कर दिया बड़े भाई का कत्ल

Highlights

- अलीगढ़ जिले के थाना पाली मुकीमपुर की घटना

- 20 रुपए को लेकर दोनों भाइयों में हुआ था विवाद

- भाई की हत्या कर बहन के यहां पहुंचा था छोटा भाई

By: lokesh verma

Published: 16 Oct 2020, 12:00 PM IST

अलीगढ़. 12 अक्टूबर को बिजौली मार्ग पर मिला युवक का शव ल्हासरी गांव के राजकुमार का था। पुलिस ने शव की पहचान करते हुए मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार, चचेरी बहन के घर जाते समय 25 वर्षीय राजकुमार का 22 वर्षीय भाई ओमवीर से ई-रिक्शे का 20 रुपए किराया देने को लेकर झगड़ा हुआ था। इसके बाद दोनों भाइयों में विवाद इस कदर बढ़ा कि छोटे भाई ओमवीर ने राजकुमार की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद ओमवीर भाई के शव को वहीं छोड़ रात के समय चचेरी बहन के घर पहुंच गया था।

यह भी पढ़ें- हाथरस कांड: आरोपी के घर सीबीआई का छापा, ‘खून’ से सने कपड़े साथ ले गए अधिकारी

दरअसल, ल्हासरी निवासी राजकुमार और ओमवीर पुत्र बिजेन्द्र सिंह अपने चाचा के यहां रहते थे। चाचा ने बिना काम के रह रहे दोनों भतीजों को अपनी बेटी गुड्डी के यहां 11 अक्टूबर को बिजौली भेज दिया। इसके बाद पाली चौराहे से दोनों ने बिजौली के लिए ई-रिक्शा पर सवार हो गए। इसी बीच किराए को लेकर दोनों के बीच रिक्शे में ही मारपीट हो गई। इस पर रिक्शे वाले ने दोनों को रास्ते में उतार दिया। इसके बाद दोनों पैदल ही बहन के घर चल दिए। रास्ते में दोनों के बीच फिर मारपीट हुई। जंगल में ओमवीर ने बड़े भाई राजकुमार का गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई और वह अकेला ही चचेरी बहन के यहां पहुंच गया।

थाना पाली मुकीमपुर एसओ हरिभान सिंह के मुताबिक, गुड्डी के पास पिता जुगेन्द्र का फोन आया था कि ओमवीर और राजकुमार पहुंचे या नहीं। गुड्डी ने बताया कि बस ओमवीर आया है। गुड्डी को राजकुमार की चिंता हुई तो तलाश की गई तो पुलिस ने जंगल से शव बरामद किया। पुलिस पोस्टमार्टम की रिपोर्ट का इंतजार कर रही थी। रिपोर्ट आने के बाद ओमवीर ने भाई की हत्या करने की बात कबूल कर ली।

यह भी पढ़ें- मुंबई में सेठ के घर से चुराए 69 लाख, नोएडा से सहारनपुर जाते हुए हो गया ‘कांड’

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned