शादी से पहले दूल्हे को फोन पर मिली ऐसी खबर कि सारी खुशियां पल भर में चकनाचूर हो गईं...

शादी से पहले दूल्हे को फोन पर मिली ऐसी खबर कि सारी खुशियां पल भर में चकनाचूर हो गईं...

suchita mishra | Publish: Sep, 05 2018 10:37:45 AM (IST) Aligarh, Uttar Pradesh, India

बारातियों से भरी बस मिनी बस से टकराई। हादसे में 12 लोगों की मौत, दो दर्जन से अधिक घायल। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की मदद की घोषणा।

अलीगढ़। मंगलवार को एक दर्दनाक हादसे ने खुशियों को मातम में बदल दिया। एनएच-93 पर मडराक टोल प्लाजा के पास बारातियों से भरी एक बस की मिनी बस से आमने सामने भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बारातियों से भरी बस मिनी बस में काफी अंदर तक घुस गई। इस हादसे में मिनी बस के ड्राइवर समेत 12 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। हादसे के बाद घटनास्थल पर बुरी तरह चीख-पुकार मच गई। घायलों को आनन-फानन में मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल के अलावा निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

ये था पूरा मामला
थाना बन्नादेवी के मोहल्ला अम्बिया ओबिया मालगोदाम निवासी दानिश पुत्र भूरा का मंगलवार को निकाह था। करीब एक बजे घर से दूल्हा अपने दोस्तों व परिजनों के साथ कार से फिरोजाबाद के लिए रवाना हुआ। उसके कुछ देर बाद बारातियों से भरी बस भी घर से रवाना हो गई। दूल्हा तो कार से सही सलामत फिरोजाबाद पहुंच गया, लेकिन बारातियों से भरी बस रास्ते में हादसे का शिकार हो गई। दोपहर करीब ढाई बजे बस मडराक टोल प्लाजा क्रॉस करने के बाद कोठिया मोड़ पर पहुंची। वहां बस का ड्राइवर अपने पास के वाहन को ओवरटेक कर रहा था, तभी सामने से तेज रफ्तार में मिनी बस आ गई और दोनों की आमने सामने भिड़ंत हो गई।

मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
दोनों बसों की भिड़त इतनी जर्बदस्त थी कि बसों के परखच्चे उड़ गए। हादसे के बाद चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। आसपास के लोग इकट्ठे हो गए। रास्ते से गुजरने वाले वाहन जहां के तहां थम गए। इसके बाद लोगों ने पुलिस सूचित किया। सूचना पर डीएम चंद्रभूषण सिंह, एसएसपी अजय साहनी समेत तमाम अफसर मौके पर पहुंच गए। इस बीच पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए नजदीकी निजी अस्पताल में भिजवाया लेकिन वहां से उन्हें जेएन मेडिकल कॉलेज और जिला मलखान सिंह अस्पताल रेफर कर दिया गया। हादसे के बाद मुुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मरने वालों के परिजनों को दो-दो लाख व घायलों को 50-50 हजार रुपए दिए जाने की घोषणा की है।

गमगीन माहौल में हुई दुल्हन की विदाई
बस हादसे की खबर जब फिरोजाबाद पहुंची तो खुशी खुशी बारात के स्वागत की तैयारी कर रहे लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई। सारा माहौल पल भर में मातम में बदल गया। शाम को दूल्हा सिर्फ चार लोगों के साथ विवाहस्थल पर पहुंचा और निकाह की रस्म अदा होने के बाद दुल्हन को विदा करके ले गया। बताया जा रहा है कि दुल्हन की बहन का निकाह भी उसी दिन था, लेकिन इस हादसे के बाद उसे भी गमगीन माहौल में विदा किया गया।

Ad Block is Banned