चूहे की आंख का सफल ऑपरेशन कर डॉक्टर ने निकाला 25 ग्राम का ट्यूमर

Highlights

- वेटनरी डॉक्टर के ऑपरेशन से सफेद चूहे को मिला नया जीवन

- आंख पर ट्यूमर के चलते चूहे ने छोड़ दिया था खाना-पीना

- दो घंटे चले ऑपरेशन के बाद ठीक हुआ चूहा

By: lokesh verma

Published: 28 Oct 2020, 05:54 PM IST

अलीगढ़. डॉक्टरों को यूं ही नहीं धरती का भगवान कहा जाता है। डॉक्टरों ने समय-समय पर ऐसे उदाहरण पेश किए हैं, जिसके चलते उन्हें भगवान का दर्जा दिया गया है। इसी तरह की एक मिसाल की एक वेटनरी डॉक्टर ने। जिन्होंने एक सफेद चूहे को नया जीवन दिया है। अलीगढ़ के वेटनरी डॉक्टर विराम वाष्णेय ने एक चूहे की आंख का ऑपरेशन करते हुए करीब 25 ग्राम का ट्यूमर निकाला है। अब चूहा पूरी तरह स्वस्थ है।

यह भी पढ़ें- हाथी पर योगासन कर विवादों में घिरे बाबा रामदेव, केस दर्ज करने के लिए थाने में दी तहरीर

दरअसल, अलीगढ़ नुमाइश ग्राउंड के रहने वाले अमित कुमार को हाल ही में घर के पास प्लॉट में एक सफेद चूहा दिखा था, जिसे वह अपने घर ले आए। इसके बाद चूहेे की आंख पर एक ट्यूमर हो गया तो चूहे ने खाना-पीना ही बंद कर दिया। अमित ने मानवता का परिचय देते हुए उसे बाहर छोड़ने के बजाय उसका इलाज कराने की ठानी। अमित चूहे को लेकर वेटनरी डॉक्टर विराम वाष्णेय के पास लेकर पहुंचे। जहां डॉ. वाष्णेय ने चूहे की आंख का ऑपरेशन कर ट्यूमर निकाला। इस दौरान चूहे की आंख के पास कुल आठ टांके आए। इस नेक काम में डॉ. वाष्णेय का वेटनरी स्टूडेंट डॉक्टर प्रभुजीत कौर ने भी सहयोग किया।

डॉ. वाष्णेय ने बताया कि सफेद चूहे की आंख पर करीब 25 ग्राम का ट्यूमर था, जिसे दो घंटे के सफल ऑपरेशन के बाद निकाला गया है। चूहे को होश आ गया है। उसका घाव 20 दिन में पूरी तरह ठीक हो जाएगा। फिलहाल वह पूरी तरह स्वस्थ है। उन्होंने कहा कि जिस तरह अमित ने एक चूहे को जीवनदान दिलाने का काम किया उसी तरह वह अन्य लाेगों से भी अपील करते हैं कि अगर किसी जानवर को कोई बीमारी होती है तो वह वेटनरी डॉक्टर को अवश्य दिखाएं।

यह भी पढ़ें- प्रदूषण फैलाने वालों की अब खैर नहीं, एक दिन में वसूला गया सवा करोड़ का जुर्माना

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned