पीएम मोदी को वर्ल्ड फेमस फिलिप कोटलर अवॉर्ड देने वालों का है यूपी के इस शहर से है गहरा नाता, जानिए क्या!

पीएम मोदी को वर्ल्ड फेमस फिलिप कोटलर अवॉर्ड देने वालों का है यूपी के इस शहर से है गहरा नाता, जानिए क्या!
पीएम मोदी

suchita mishra | Publish: Jan, 17 2019 05:09:47 PM (IST) | Updated: Jan, 17 2019 05:20:30 PM (IST) Aligarh, Aligarh, Uttar Pradesh, India

हर साल दुनिया के किसी एक राष्ट्राध्यक्ष को सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में योगदान के लिए फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवॉर्ड से नवाजा जाता है।

अलीगढ़। हाल ही पीएम मोदी को वर्ल्ड मार्केटिंग समिट द्वारा फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड से नवाजा गया है। पीएम को अवॉर्ड देने वालों में एक दंपति ऐसे भी थे जिनका यूपी के अलीगढ़ से सीधा नाता है। दरअसल अवॉर्ड देते हुए जारी तस्वीर में स्कार्फ बांधे हुए महिला अना और सूट पहनकर सबसे आगे खड़े हुए शख्स उनके पति तौसीफ जियाउद्दीन हैं। अना और तौसीफ दोनों पूर्व में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र रह चुके हैं और वर्तमान में सउदी अरब में रहते हैं।

एएमयू में प्रोफेसर थे तौसीफ के पिता
तौसीफ जियाउद्दीन मूलरूप से अलीगढ़ के सर सैयद नगर (फ्रेंड्स कॉलोनी के पास) के रहने वाले हैं। उनके पिता स्व. जियाउद्दीन सिद्दीकी एएमयू के वनस्पति विज्ञान से प्रोफेसर पद से सेवानिवृत्त हुए थे। तौसीफ ने एएमयू से पढ़ाई की। उसके बाद उच्च शिक्षा के लिए वे विदेश चले गए। वहीं उनकी पत्नी अना ने एएमयू के एमबीए डिपार्टमेंट से पीएचडी की है। वर्तमान में तौसीफ इंजीनियर हैं और अना शिक्षिका हैं। दोनों सउदी अरब में रहते हैं।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिलिप कोटलर अवार्ड मिलने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तंज कसते हुए कहा था कि ‘मैं हमारे प्रधानमंत्री को विश्व प्रसिद्ध कोटलर प्रेसिडेंशल अवॉर्ड जीतने की बधाई देता हूं।’ वास्तव में यह इतना प्रसिद्ध है कि इसमें कोई जूरी नहीं है और पहले कभी किसी को नहीं दिया गया और इसको एक अनसुनी अलीगढ़ कंपनी का सहयोग हासिल है।’ राहुल गांधी द्वारा तंज कसे जाने के बाद यह मामला चर्चा में आया और इसको लेकर विवाद होने लगा। उसके बाद खुद प्रोफेसर फिलिप कोटलर ने ट्वीट कर पीएम मोदी को बधाई देते हुए कहा कि ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिलिप कोटलर प्रेजिडेंशल अवॉर्ड से सम्मानित होने पर बधाई देता हूं। उन्हें अथक ऊर्जा के साथ भारत का उत्कृष्ट नेतृत्व करने और निस्वार्थ सेवा करने के लिए इस अवॉर्ड के लिए चुना गया है।’ बता दें कि हर साल दुनिया के किसी एक राष्ट्राध्यक्ष को सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में योगदान के लिए फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवॉर्ड से नवाजा जाता है।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned