पिकनिक के दौरान नदी में बच्चा डूबा, यह देख 7 में से 6 शिक्षक घटना स्थल से हो गए फरार!

पिकनिक के दौरान नदी में बच्चा डूबा, यह देख 7 में से 6 शिक्षक घटना स्थल से हो गए फरार!

Rajesh Mishra | Publish: Aug, 14 2019 05:53:30 PM (IST) | Updated: Aug, 14 2019 06:03:46 PM (IST) Alirajpur, Alirajpur, Madhya Pradesh, India

गुजरात स्थित छोटा उदयपुर वनार गांव ले गए थे पिकनिक के लिए, परिजन शव लेकर डॉन बास्को एकेडमी पहुंचे, लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग को लेकर किया धरना, पुलिस अधिकारियों व प्रशासन ने दी समझाइश

आलीराजपुर. पिकनिक पर गए निजी स्कूल के छात्र सौरभ पिता थानसिंह निवासी गढ़ात की नदी में डूबने से हुई मौत के बाद स्कूल की ओर से गए ७ में से 6 शिक्षक घटनास्थल से फरार हो गए। घटना की जानकारी जब परिजन को लगी तो वे सीधे छोटा उदयपुर पहुंचे। जहां मृत अवस्था में उन्हें बालक मिला। इसके बाद परिजन का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। मंगलवार को परिजन शव लेकर डॉन बास्को एकेडमी पहुंचे और लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया। वहीं डॉन बास्को एकेडमी से ईद की छुट्टी बताकर घर लौटा दिया, जबकि मंगलवार को सभी बच्चों को स्कूल आना था। ज्ञात हो कि सोमवार को स्कूल प्रशासन द्वारा बच्चों को गुजरात स्थित छोटा उदयपुर वनार गांव पिकनिक के लिए ले जाया गया था, तभी नदी में डूबने से एक बच्चे की मृत्यु हो गई।
मंगलवार को सुबह से ही कक्षा सातवीं में पढऩे वाले बच्चा सौरभ पिता थानसिंह निवासी गढ़ात के परिजन व गांववाले  सौरभ का शव डॉन बास्को एकेडमी के बाहर रखकर धरने पर बैठ गए। इस दौरान एसडीओपी धीरज बब्बर, डिप्टी कलेक्टर सोलंकी व थाना प्रभारी दिनेश सोलंकी भी दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे।करीब 1 घंटे बाद डॉन बास्को एकेडमी के फादर बेलेज अपने साथियों के साथ आए और घटना पर दु:ख जताकर स्कूल प्रबंधन का घटना से कोई लेना-देना नहीं है कहकर उन्होंने पल्ला झाडऩे की कोशिश की। फादर का कहना था कि बच्चा बोर्डिंग के शिक्षकों के साथ गया था, लेकिन फादर बोर्डिंग के शिक्षकों को उपस्थित नहीं कर पाए।
बोर्डिंग के शिक्षकों पर हो कार्रवाई
जब फादर द्वारा यह बताए जाने की कोशिश की गई कि स्कूल नहीं बोर्डिंग में रहने वाले बच्चों की मांग पर उन्हें
छुट्टियों में पिकनिक पर ले जाया गया था तो परिजन के साथ ही आए गांववाले भी आक्रोशित हो गए। परिजन का कहना था कि जब बोर्डिंग भी एकेडमी द्वारा चलाया जा रहा है तो वह फिर अलग कैसे हो गया। परिजन का कहना था कि जब शासन-प्रशासन द्वारा बारिश के चलते छुट्टी कर दी गई थी तो फिर डॉन बास्को द्वारा प्रशासन की बात को महत्व क्यों नहीं दिया गया। परिजन का कहना था कि पूरी डॉन बास्को एकेडमी में जो भी शिक्षक दोषी हैं, उन पर हत्या का मुकदमा दर्ज होना चाहिए ताकि आने वाले समय में किसी अन्य बच्चे के साथ कोई दुर्घटना ना हो।
समझाइश के बाद धरना हुआ समाप्त
डॉन बास्को एकेडमी में करीब 2 घंटे बच्चे के शव को रखकर प्रदर्शन कर रहे परिजन को पुलिस अधिकारियों व प्रशासन द्वारा समझाइश दी गई कि घटना स्थल गुजरात में होकर वहां की पुलिस द्वारा घटना की कायमी की जा चुकी है, इसलिए वे अपना धरना समाप्त कर अपने घर लौटें। काफी समझाइश के बाद मृतक के परिजन बालक का शव लेकर अपने घर लौट गए।

 

Alirajpur

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned