युक्तियुक्तकरण प्रक्रिया का किया बहिष्कार

Rajesh Mishra

Publish: Jun, 14 2018 01:14:37 PM (IST)

Alirajpur, Madhya Pradesh, India
युक्तियुक्तकरण प्रक्रिया का किया बहिष्कार

शिक्षकों ने सहायक आयुक्त को सौंपा आवेदन

आलीराजपुर. जनजातीय कार्य विभाग द्वारा जिले में कार्यरत शिक्षकों व अध्यापकों के युक्तियुक्तकरण की सूची सोमवार को जारी की गई। बुधवार को शिक्षकों को काउंसलिंग के लिए बुलाया गया था। इसके पूर्व सभी शिक्षक सहयोग गार्डन में एकत्रित हुए जहॉ पर अध्यापक संविदा शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राजेश आर वाघेला को शिक्षकों ने बुलाया और उक्त सूची में दर्ज विसंगतियों से अवगत करवाया। इस दौरान समस्त शिक्षकों ने निर्णय लिया कि उक्त सूची में नियमानुसार अति शेष शिक्षकों को शामिल नहीं किया गया व अन्य शिक्षकों के नाम शामिल किए गए हैं। जब तक उक्त सूची को नियम के अनुसार आने वाले शिक्षकों के नाम शामिल नहीं कर लिए जाते हैं, हम इसका विरोध दर्ज करते है और इसका प्रकिृया का बहिष्कार करते है।
सूची दोषपूर्ण है

समस्त शिक्षक वाघेला के नेतृत्व में जनजातीय कार्य विभाग कार्यालय पहुंचे, जहां सहायक आयुक्त सतीश सिंह को कलेक्टर के नाम आवेदन सौंपकर शिक्षकों ने सूची को दोषपूर्ण बताते हुए काउंसलिंग निरस्त कर नियमानुसार पुन: सूची जारी कर युक्तियुक्तकरण की प्रकिृया करने की मांग की। आवेदन में बताया गया कि युक्तियुक्तकरण की सूची में केवल एक दिन के अंतराल में आपत्ति दर्ज करने की बात कही है। जबकि उक्त सूची खंड शिक्षा कार्यालय में चस्पा कर एक सप्ताह का समय दिया जाना चाहिए था। सूची में संस्था में वरिष्ठता को ध्यान में रखकर नहीं बनाई गई, कहीं संस्था में पहले वाले शिक्षक को तो कहीं अंतिम शिक्षक को, तो कहीं बीच के शिक्षकों को अति शेष बताया गया है। युक्तियुक्तकरण के लिए जिलास्तर पर समिति का गठन भी नहीं किया गया। इस अवसर पर अंतरसिंह रावत, धनसिंह मायड़ा, विक्रमसिंह बघेल, विजयसिंह भयडिय़ा, पुनम डावर, शकुंतला कनेल, प्रीति डावर, माधुरी यादव आदि मौजूद थे।

अपनी आपत्ति दर्ज करे
यदि किसी का नाम गलत बताया गया है तो वो अपनी आपत्ति दर्ज करे। आपत्ति सही होने पर अतिशेष की सूची से उनका नाम हटा दिया जाएगा।
सतीश सिंह, सहायक आयुक्त आलीराजपुर

Ad Block is Banned