कलेक्टर ने जारी किया भ्रष्टाचार की शिकायत करने के लिए नंबर

जनप्रतिनिधियों के रिश्वत के आरोप तो कलेक्टर ने दिखाई सख्ती, आदिवासी विकास विभाग में कलेक्टर ने लगवाए पर्चे

kashiram jatav

February, 1501:01 AM

आलीराजपुर. जिले के सरकारी विभागों में काम-काज के लिए कांग्रेस के जिलाध्यक्ष और विधायक द्वारा अधिकारियों पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाने के बाद कलेक्टर ने शिकायत करने के लिए एक नंबर जारी किया है। इसके पर्चे अलग-अलग विभागों में लगवाए गए हैं। सहायक आयुक्त कार्यालय के बाहर कलेक्टर सुरभि गुप्ता का रिश्वत मांगने वालों की शिकायत करने का पर्चा चस्पा। जिस कार्यालय के बाहर ये पर्चा चस्पा है, उसी कार्यालय में रिश्वत मांगने का आरोप सामने आया है।

जिला योजना समिति की बैठक के बाद अनुकंपा नियुक्ति को लेकर प्रभारी मंत्री को आवेदन देने आई युवती ने सहायक आयुक्त विभाग के कर्मचारी पर रिश्वत की मांग का आरोप लगाया है। कलेक्टर के जारी पर्चे में कहा गया है कि यदि सहायक आयुक्त कार्यालय के अमले द्वारा किसी भी कार्य के लिए रिश्वत की मांग की जाती है तो इसकी तत्काल सूचना संयुक्त जिला कार्यालय के कक्ष 112 में दें। इसके लिए कलेक्टर ने ९३४०१७९९४६ नंबर भी जारी किया है। वहीं पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान ने प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय में बच्चों की खेल सामग्री में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है।
कांग्रेस अध्यक्ष ने भी लगाए थे आरोप
कलेक्टोरेट में मीडिया से चर्चा करते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष महेश पटेल ने कहा था कि जिले में बिना पैसों के कोई काम नहीं हो रहे। वहीं पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान ने भी प्रेस वार्ता कर अधिकारियों के भ्रष्टाचार मे लिप्त होने एवं अधिकारियों के सरंक्षण में अवैध कारोबार के ठेकेदारों के फलने फूलने के आरोप लगाए थे।

अनुकंपा नियुक्ति की मांग
कलेक्टर कार्यालय में जिला कांग्रेस अध्यक्ष महेश पटेल एवं जोबट विधायक कलावती भूरिया को पत्र सौंपते हुए राजेन्द्र पिता स्व. दूलेसिंह डूडवे ने अनुकंपा नियुक्ति कराने की मांग करते हुए कहा कि उसे भटकते हुए कई महीने हो गए हैं। उनके पिता की मृत्यु 21 जून २०१० में हुई थी। इसके बाद संबंधित सभी कागज की पूर्ति करने के बाद भी मुझे आज तक नियुक्ति नहीं दी गई। इसी दौरान युवक की बहन ने विभाग के कर्मचारी अनुकंपा नियुक्ति करने के बदले पैसों की मांग कर रहे हैं। जिस पर विधायक कलावती भूरिया ने युवक को शीघ्र नियुक्ति दिलाने का भरोसा दिया।

खेल सामग्री की किट घटिया
आलीराजपुर जिले की प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला के लिए शासन द्वारा खेल सामग्री खरीदने के लिए पैसा भेजा गया है। जिले में 350 से अधिक माध्यमिक शालाए हैं। इसमें शासन द्वारा 10 हजार रुपए प्रति स्कूल खेल सामग्री के लिए भेजा गया। वहीं 1500 से अधिक प्राथमिक शालाए हैं। इसमें शासन द्वारा 5 हजार रुपए प्रति स्कूल खेल सामग्री के लिए भेजा गया है। इसमें दी जा रही खेल सामग्री की किट घटिया किस्म की है। इसमें सामग्री 1500 से 2 हजार रुपए की है।

kashiram jatav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned