जरूरतमंदों तक खाद्यान्न पहुंचाने की मांग

संकट के समय प्रबंध की बैठक इतने विलंब रखने पर जनप्रतिनिधियों ने जमकर भड़ास निकाली

By: kashiram jatav

Published: 18 Apr 2020, 11:09 PM IST

आलीराजपुर. कोरोना महामारी को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा 3 मई तक के लिए पूरी तरह से लॉकडाउन घोषित किया है। इस लॉकडाउन में जरूरतमंद तक खाने पीने की सामग्रियों को पहुंचाने के लिए मप्र सरकार द्वारा संकट प्रबंधन समूह का गठन किया गया है। लेकिन जिला प्रशासन द्वारा जिले में कोरोना के 3 मरीजो की रिपोर्ट पाई गई तब जाकर संकट प्रबंधन समूह की बैठक बुलाई गई। संकट के समय प्रबंध की बैठक इतने विलंब रखने पर जनप्रतिनिधियों ने जमकर भड़ास निकाली।

बैठक में विधायक मुकेश पटेल ने जहां गरीबो को राशन नहीं मिल रहा का मुददा उठाया। वहीं पूर्व विधायक एवं सांसद प्रतिनिधि नागरसिंह चौहान ने लॉक डाउन को 3 मई तक सख्ती से पालन करवाने एवं गुजरात में फसे मजदूरो में खाते में दी जाने वाले राशि को कैसे पहुंचाई जाई उस पर अपनी बात रखी।

सदस्यों ने रखे विचार
जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक शनिवार को कलेक्टर सुरभि गुप्ता की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट सभाकक्ष में हुई। इस अवसर पर जिले में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयासों के सम्बंध में जानकारी दी गई। बैठक में सभी सदस्यों से कोरोना संक्रमण रोकने, केन्द्र और राज्य शासन से प्राप्त मदद जरूरतमंदों तक पहुचंाने संबंधित कार्य की रणनीति पर विचार विमर्श किया।
इस दौरान कलेक्टर गुप्ता ने लॉक ड़ाउन के संबंध में शासन स्तर से प्राप्त निर्देशो के बारे में सभी को विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्राप्त निर्देशानुसार छोटी-छोटी आर्थिक गतिविधियों को चरणबद्ध तरीके से प्रारम्भ किया जाना है, जिस पर सभी सदस्यों ने कोरोना संक्रमण को रोकने हेतु आगामी 3 मई तक लॉक डाउन का सख्ती से पालन सुनिश्चित कराए जाने की बात रखी। सभी सदस्यगण ने एकमत से कहा जिले में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन आवश्यक है। बैठक में सदस्यों ने लॉक डाउन एवं कफ्र्यू की स्थिति में जरूरमंदों तक खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित कराए जाने की बात कही। साथ ही आवश्यक खाद्यान्न सामग्री की सुनिश्चितता ग्रामीण स्तर पर भी कराए जाने की व्यवस्था के संबंध में सदस्यगण ने अपने विचार व्यक्त किए।

लघु वनोपज खरीदी के लिए केन्द्र प्रारंभ किया जाए
बैठक में उदयगढ एवं चन्द्रशेखर आजाद नगर को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किए जाने और उक्त क्षेत्र संबंधित प्रतिबंधात्मक आदेशों के बारे में सभी को जानकारी दी गई तथा उक्त क्षेत्र में आवश्यक वस्तुतओं की उपलब्धता के लिए किए गए प्रयासों के बारे में बताया गया।

बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधिगण ने लघु वनोपज जैसे महुआ आदि की खरीदी हेतु केन्द्र यथाशीघ्र प्रारंभ कराए जाने की बात कही। बैठक में केन्द्र और राज्य सरकार की ओर से जरूरतमंदों एवं जिले से बाहर फसे हुए लोगों के लिए की जाने वाली मदद के प्रभावी क्रियान्वयन संबंधित चर्चा की गई। इस दौरान एसपी विपुल श्रीवास्तव ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान अफवाहों की जानकारी भी मिल रही है। उन्होंने बताया पुलिस प्रशासन पूरे जिले में सतत निगरानी रखे हैं। पुलिस द्वारा सुरक्षा के प्रबंध किए गए है। बैठक में कलेक्टर गुप्ता ने कोरोना डोनेशन रिलिफ फंड में सहयोग का सभी से आह्वान किया। बैठक में एसपी विपुल श्रीवास्तव, विधायक कलावती भूरिया, जिला पंचायत सीईओ एसके मालवीय, अपर कलेक्टर सुरेश चन्द्र वर्मा, एसडीएम विजय कुमार मंडलोई, नपा अध्यक्ष सेना पटेल, नपा उपाध्यक्ष मकू परवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष वकीलसिह ठकराला, किशोर शाह सहित अन्य गणमान्यजन समिति सदस्यगण उपस्थित थे।

kashiram jatav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned