इंदरसिंह की चौकी में अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री पकड़ी, क्र १८ लाख का माल जब्त

एक माह में अवैध शराब बनाने की दूसरी फैक्ट्री पकड़ी

By: kashiram jatav

Published: 01 Mar 2020, 01:25 AM IST

आलीराजपुर/ चंद्रशेखर आजादनगर. आबकारी विभाग के अमले ने शनिवार को ग्राम इंदरसिंह की चौकी में एक अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री का भांडाफोड़ करते हुए बड़ी मात्रा में शराब बनाने के उपरकण, स्प्रिट, फिल्टर मशीन सहित करीब 18 लाख रुपए मूल्य की अवैध शराब जब्त की है। हालाकि आबकारी विभाग ने जिस मकान से अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री पकड़ी है। वहीं इस मामले में किसी को आरोपी नहीं बनाया है। विभाग ने सुबह हुई कार्रवाई को शाम 5 बजे तक खुलासे करने का बताया। कार्रवाई के बाद नेता से लेेकर ठेकेदार आबकारी कंट्रोल रूम के बाहर चक्कर लगाते हुए नजर आए।

विभाग की कार्रवाई के बाद इंदरसिंह की चौकी से शराब बनाने के उपकरण एवं लेबल, बोतल, ढक्कन, पेङ्क्षकग सामग्री, मशीन जब्त कर मंडी गोडाउन लाया गया। देर शाम तक विभाग द्वारा आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त नहीं की गई। खरगोन सहायक आबकारी अधिकारी आरएस राय ने मंडी गोडाउन पर जानकारी देते हुए बताया कि उक्त शराब राकेश पिता मांजरिया के रहवासी मकान से जब्त की गई है, लेकिन आलीराजपुर जिले के आबकारी अधिकारियों ने मीडिया से चर्चा नहीं की।

शराब ठेकेदारों ने पकड़वाई शराब : सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम इंदरसिंह की चैकी में अवैध शराब की फैक्ट्री पकडऩे की कार्रवाई के पीछे जिले के शराब ठेकेदारो का हाथ बताया जा रहा है। वित्तीय वर्ष 2019-20 का अंतिम महीना शेष बचा है। इसमें शराब ठेकेदार अधिक से अधिक मात्रा में फिस वसूल कर कमाई करना चाह रहे हैं। इसके चलते शराब ठेकेदार आबकारी विभाग पर दबाव बनाकर अवैध शराब की फैक्ट्रियों व वहां से बनकर निकलने वाली सैकड़ों पेटी शराब जब्त कर अपने धंधे की नुकसानी को बचाने में सक्रिय हो गए हैं। आबकारी विभाग की इस कार्रवाई के दौरान शराब ठेकेदार ग्रुप के मैनेजर आबकारी विभाग कंट्रोल रूम एवं आबकारी विभाग के गोदाम पर भी नजर आए। आबकारी विभाग के कंट्रोल रूम पर जैसे ही पत्रकार जिला आबकारी अधिकारी भदौरिया के कक्ष में जानकारी लेने पहुंचे तो वहां पर शराब ठेकेदार ग्रुप के प्रबंधक पुरोहित बैठे नजर आए। पत्रकारों को देखते ही वे तुरंत कक्ष से बाहर रवाना हो गए।

अवैध शराब बनाने के मिले उपकरण
कार्रवाई के दौरान अवैध शराब बनाने की सामग्री, स्प्रिट आदि सामान मौके से मिला। मौके से 680 लीटर स्प्रिट, पोलो व्हिस्की की 225 बनी हुई पेटियां, 2025 बल्क लीटर, प्लास्टिक की 18 बोरियों में ढक्कन, 1 रिम होलोग्राम, 15 बोरियों में गत्ते-पुष्टे,पोलो तथा किंग व्हिस्की के लेबल, विभिन्न ब्रांड के ढक्कन, 1 ढक्कन सील करने की ऑटोमैटिक मशीन, १ आरओ वॉटर प्लांट, १ सॉफ्टनर मशीन, होलोग्राम का एक बंडल, 200 लीटर क्षमता के 22 बड़े खाली ड्रम स्पिरिट सुगंधित पानी की 2 टंकियाँ एवं शराब बनाने की अन्य सामग्री जप्त कर मप्र आबकारी अधिनियम के तहत प्रकरण कायम कर विवेचना में लिया। जप्त सामग्री की अनुमानित कीमत लगभग 18 लाख रूपए है।

kashiram jatav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned