कर्ज माफी किसानों के साथ सबसे बड़ा मजाक : चौहान

भाजपा ने वचन-पत्र के वादे ना निभाने के विरोध में कांग्रेस के खिलाफ दिया धरना

आलीराजपुर. मप्र में कांग्रेस की सरकार द्वारा आमजन, किसानों, युवाओं, महिलाओं, बेरोजगारों एवं कर्मचारियों से जो वादे किए गए थे, वे अब हवा हवाई साबित हो रहे हैं। मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ अपनी झूठी वाहवाही करवाकर सिर्फ कागजों पर ही वचन-पत्र को पूरा करने की बात कर रहे हंै, लेकिन जमीनी स्तर पर सभी वर्गों से किए गए वादे एक भी पूरे नहीं किए गए हैं। मप्र की जनता सरकार की वादा खिलाफी के खिलाफ सकते में है और स्वयं को ठगा हुआ महसूस कर रही है। भाजपा जनता के साथ है और आमजन के हित में इस कांग्रेस की सरकार को विवश कर देगी कि जनता से जो उन्होंने वादे किए हैं, उन्हें पूरा किया जाए। कांग्रेस ने कर्जमाफी के नाम पर किसानों के साथ सबसे बड़ा मजाक किया है। यह बात भाजपा प्रदेश प्रवक्ता नागरसिंह चौहान ने खंडवा-बड़ोदा मार्ग स्थित पुराने कलेक्टर के सामने आयोजित धरने को संबोधित करते हुए कहीं। इस दौरान इंदौर विकास प्राधिकरण के पूर्व चेयरमैन शंकर ललवानी, भाजपा जिलाध्यक्ष किशोर शाह, जोबट के पूर्व विधायक माधोसिंह डावर सहित सैंकड़ों भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे। धरना समापन के बाद उपस्थित कार्यकर्ताओं द्वारा चक्काजाम कर पुलिस को अपनी गिरफ्तारी भी दी गई। धरने में शामिल कार्यकर्ताओं ने हाथों में कांग्रेस सरकार के खिलाफ तख्तियां लिए हुए थे, जिसमें नारे लिखे हुए थे।
मुख्यमंत्री को बदलने का वादा निभाए राहुल गांधी
धरने को संबोधित करते हुए चौहान ने कहा, चुनाव के पहले कांग्रेस के द्वारा बड़ी-बड़ी बाते करते हुए उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा जनता से यह वादा भी किया था की यदि मप्र में कांग्रेस की सरकार बनेगी तो जो वादे हमने जनता से किए हैं, यदि वे १० दिन में पूरे नहीं हुए तो वे 11वें दिन मुख्यमंत्री को बदल देंगे। चौहान ने कहा, कांग्रेस जनता से वचन-पत्र में किए वादे निभाने में असफल रही है। कम से कम मुख्यमंत्री बदलकर कांग्रेस अपनी साख बचा सकती है। चौहान ने कहा, प्रदेश में आज विकास की गति पूरी तरह से ठप हो गई है। आज चारों ओर आमजन में इस बात को लेकर निराशा है की कांग्रेस के द्वारा वे कहीं ना कहीं ठगे गए हैं।
किसानों का कर्ज क्यों नहीं माफ कर रही सरकार
धरने को संबोधित करते हुए जोबट के पूर्व विधायक माधोसिंह डावर ने कहा, कांग्रेस द्वारा किसानों से यह वादा किया गया था कि सत्ता में आते ही वे हर किसान के 2 लाख रुपए तक के कर्ज माफ करेगी, लेकिन 3 माह से अधिक समय बीत जाने के बाद भी जिले के 1 भी किसान का अब तक कर्ज माफ नहीं हुआ है। डावर ने कहा, सांसद व विधायक प्रमाण-पत्र बांट रहे हैं, लेकिन जिन्हें प्रमाण-पत्र मिला है, उनके खाते में अभी तक 1 भी रुपया जमा नहीं हुआ है। डावर ने कहा, कांगे्रस ने 2 लाख रुपए तक के कर्ज माफी की बात कही थी, लेकिन किसानों के 3 हजार से लेकर 5,7,10 हजार रुपए ही क्यों माफ किए जा रहे हंै। उन्होंने याद दिलाया कि कांग्रेस द्वारा अतिथि शिक्षकों को स्थायी करने की बात कही थी, लेकिन अतिथि शिक्षक आज भी आंदोलन करने को मजबूर है।
कार्यकर्ताओं को डराने का प्रयास ना करें अधिकारी
धरने को संबोधित करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष किशोर शाह ने कहा, कांग्रेस द्वारा वचन-पत्र में वादे ना निभाए जाने के विरोध में भाजपा का कार्यकर्ता जनता के हित में सडक़ों पर उतरा है। जिले के कुछ अधिकारी-कर्मचारी सत्ता का सुख भोगने के चक्कर में हमारे कार्यकर्ताओं एवं सरपंचों को परेशान करने का काम कर रहे हैं, ऐसे अधिकारियोंं से मैं कहना चाहता हूं कि वे इमानदारी से अपना काम करें, सत्ता तो कभी भी बदल सकती है।
राज्यमार्ग पर दी गिरफ्तारी
धरने के बाद खंडवा-बड़ौदा मार्ग पर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने लगभग 30 मिनट तक चक्काजाम भी किया। इसके चलते दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गई थी। इस दौरान 600 से अधिक भाजपा कार्यकर्ताओं ने थाना प्रभारी दिनेश सोलंकी व एसडीएम अशफाक अली को अपनी गिरफ्तारी दी। धरने को भाजपा के वरिष्ठ नेता मांगीलाल रावत, अशोक ओझा, संजय गांधी, नरिंग मोरी, एमएल ने भी संबोधित किया। संचालन दीपक मोदी ने किया।

Alirajpur Bjp
राजेश मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned