नपा कार्यालय परिसर को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त करने का लिया संकल्प

नपा कार्यालय परिसर को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त करने का लिया संकल्प

Rajesh Mishra | Publish: Jul, 26 2019 05:44:55 PM (IST) Alirajpur, Alirajpur, Madhya Pradesh, India

पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता के लिए चलेगा जागरूकता अभियान

आलीराजपुर. नगर पालिका परिषद ने नगर को प्लास्टिक मुक्त बनाने की शुरुआत अपने कार्यालय से की है। नपा अध्यक्ष सेना महेश पटेल, सीएमओ संतोष चौहान एवं कर्मचारियों द्वारा कार्यालय परिसर में सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का संकल्प लिया गया। इस संकल्प के अनुरूप नपा कार्यालय को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त कर दिया है। इसके बाद से नपा कार्यालय में डिस्पोजेबल प्लास्टिक वस्तुएं, प्लास्टिक कैरी बैग, पेट कप, पेट बॉटल्स, ग्लास, स्ट्रॉ, स्पून्स, पाउच आदि अन्य प्लास्टिक से निर्मित सामान प्रतिबंधित किया गया है। इस अवसर पर पटेल द्वारा कार्यालय के प्रत्येक कमरे के लिए स्टील एवं चीनी की बॉटल्स, कप, ग्लास वितरित किए गए एवं भविष्य में किसी भी कर्मचारी द्वारा प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने एवं कार्यालय परिसर में आने वाले आगंतुकों से भी सिंगल यूज प्लास्टिक आइटम उपयोग न करने हेतु आग्रह करने के निर्देश दिए। पटेल नगरवासियों से भी सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का आग्रह किया है। इस अवसर पर रवींद्र वाघेला, सुरेशचंद्र देवड़ा, सुनील कापडिय़ा, मीना डावर, राजकुमारी, रामस्वरूप साहू, सवेसिंह चौहान, अनिल डोडवे, धर्मेंद्र सोलंकी, अभिषेक वर्मा एवं अन्य समस्त नपा कर्मचारीगण उपस्थित थे।
नगर में चलेगा विशेष अभियान
ज्ञात हो कि नपा द्वारा पिछले वर्ष ही पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता के लिए सार्वजनिक स्थानों एवं दुकानों पर सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग पर प्रतिबंध एवं दोषी पाए जाने पर 500 रुपए अर्थदंड की अधिसूचना जारी गई थी, लेकिन इस पर अधिक जोर नहीं दिया गया। वर्तमान में राज्य शासन के निर्देशों के पालन के लिए नपा द्वारा पुन: नगर के सार्वजनिक स्थानों एवं दुकानदारों से सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने की अपील की गई है। इसके चलते नपा आगामी दिनों में नगर की दुकानों पर विशेष अभियान चलाकर जांच करेगी एवं दोषी पाए जाने पर 500 रुपए अर्थदंड वसूलेगी। इस मुहिम की शुरुआत नपा ने अपने कार्यालय से कर दी है।
मा वि बोरखड़ एवं मा वि बहारपुरा में एकीकृत स्कूलों को अलग करने की मांग की

आलीराजपुर. मावि बोरखड़ एवं मावि. बहारपुरा में एकीकृत हुई शालाओं को अलग करने के लिए जिला कांग्रेस अध्यक्ष महेश पटेल ने गुरुवार को कलेक्टर सुरभि गुप्ता को एक पत्र लिखा। पत्र में बताया कि इस शैक्षणिक सत्र में नगर के दो विद्यालय मा वि बोरखड़ एवं मा वि बहारपुरा में प्रात: एवं दोपहर की शालाओं का एकीकरण कर दिया गया है, जिससे वहां अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। इन शालाओं में खासकर छात्राओं को अधिक परेशानी हो रही है, जहां कन्याओं की शाला अलग समय पर संचालित होती थी, वहीं वर्तमान में छात्राओं को छात्रों के साथ अध्ययन करना पड़ता है। विद्यार्थियों का संख्याबल अधिक होने एवं विद्यालय में समुचित संसाधनों के अभाव में इन दोनों शालाओं में अध्यापन पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है, इसलिए इन्हें अलग किया जाए।
इसका सबसे बड़ा उदाहरण दोनों शालाओं में छात्राओं के लिएअलग शौचालय की अनुपलब्धता है। पटेल ने कहा, शासन के निर्देशानुसार विशेष 5 जिले जिसमें आलीराजपुर भी सम्मिलित है, को छोडक़र अन्य जिलो में विद्यालयों का एकीकरण किया जाना है किन्तु आलीराजपुर जिले में नहीं। आलीराजपुर की इन दोनो शालाओं में पूर्व में अच्छे से अध्यापन कार्य हो रहा था किन्तु वर्तमान में दोनों शालाओं में एकीकरण के कारण वहां अध्ययनरत छात्र-छात्राओं एवं अध्यापकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पटेल ने वर्तमान प्राचार्य से लेकर सहायक आयुक्त को भी इस असुविधा से अवगत कराया, लेकिन इस गंभीर समस्या पर किसी का ध्यान नहीं जा रहा, इसलिए इस समस्या के निवारण हेतु कलेक्टर को पत्र लिखा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned