‘मोबाइल से दूरी बनाकर विद्यार्थी पढ़ाई में लगाएं ध्यान’

ग्राम छकतला के शासकीय हाई स्कूल प्रांगण में नि:शुल्क पुस्तक व साइकिल वितरण समारोह में विधायक मुकेश पटेल ने छात्राओं को दी समझाइश

आलीराजपुर. वर्तमान समय में जीवन में मोबाइल के प्रति बच्चों का रुझान बहुत बढ़ रहा है। कई विद्यार्थी दिन-रात मोबाइल में लगे रहते हैं। इससे उनके जीवन पर विपरीत असर पड़ रहा है। मोबाइल से दूरी बनाकर विद्यार्थी पूरी तरह से अपनी पढ़ाई में ध्यान लगाकर अपने माता पिता के सपनों को पूरा करें। आपके माता-पिता बड़ी उम्मीदों व मेहनत कर आपको पढ़ाने के लिए भेजते हैं, किंतु कई विद्यार्थी अपने पालकों की मेहनत व उम्मीदों पर पानी फेर रहे हैं। आप जब बड़े हो जाएं, तब मोबाइल का उपयोग करें, किंतु अभी छात्र जीवन में उसे बच कर रहें। यह बात क्षेत्रीय विधायक मुकेश पटेल ने ग्राम छकतला के शासकीय हाई स्कूल प्रांगण में नि:शुल्क पुस्तक व साइकिल वितरण समारोह में छात्राओं को संबोधित करते हुए कही।
छकतला के शासकीय हाई स्कूल की 90 छात्राओं को साइकिलें वितरित की गई। स्कूल स्टाफ ने फर्नीचर की समस्या से विधायक पटेल को अवगत कराते हुए उसकी कमी को दूर करने की मांग रखी।
सत्र के आरंभ में साइकिल देने की व्यवस्था की : विधायक पटेल ने कहा, विगत कई सालों से विद्यालयों में विद्यार्थियों को शिक्षण सत्र के मध्य व अंत तक साइकिलें वितरण की जाती रही हैं, किंतु प्रदेश में कांग्रेस की सरकार के आने के बाद से मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यह सुनिश्चित किया कि विद्यार्थियों के हित की जो भी योजनाएं हैं, उन्हें समय पर पूरा किया जाए। उनके निर्देश पर ही कई सालों बाद ऐसा हो रहा है कि हम शिक्षण सत्र के आरंभ में ही विद्यार्थियों को साइकिलें वितरित कर रहे हैं। यह कांग्रेस सरकार की उपलब्धि है। पटेल ने छात्राओं से आह्वान किया कि साइकिल का उपयोग सिर्फ स्कूल आने -जाने के लिए ही करें। पटेल ने स्कूल में फर्नीचर व स्टाफ की कमी को शीघ्रता से दूर करने का आश्वासन भी दिया।
बच्चों को शाला में लाने के हो रहे प्रयास
समारोह में सोंडवा बीईओ सोलंकी ने साइकिल वितरण की योजना और छकतला हाई स्कूल में स्मार्ट क्लासेस आरंभ करने की जानकारी दी। बीआरसी भंगुसिंह तोमर ने कहा, मप्र शासन की उपलब्धि है कि साइकिलें इस बार 24 जून को ही आ चुकी हैं। पूरे सोंडवा विकासखंड में 1435 साइकिलों का वितरण किया जाएगा। इसकी शुरुआत छकतला हाई स्कूल से हो चुकी है। तोमर ने कहा, सोंडवा विकासखंड में करीब 7 हजार बच्चे शालाओं से बाहर हैं। हम उन्हें पढ़ाने के लिए शालाओं में लाने के लिए प्रेरित करने का प्रयास कर रहे हैं। प्राचार्य छीतूसिंह बामनिया ने संचालन किया। कार्यक्रम में छकतला के पूर्व सरपंच उरसान भाई, उमरठ सरपंच मोहन भाई, धोरट सरपंच झमराला भाई, सोंडवा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष हरदास भाई, ग्राम के वरिष्ठ बाबू भाई, छकतला सरपंच, युवक कांग्रेस अध्यक्ष बापू पटेल उपस्थित थे।

राजेश मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned