तिहरे हत्याकांड के तीन आरोपी गिरफ्तार, तीन अब भी फरार

तिहरे हत्याकांड के तीन आरोपी गिरफ्तार, तीन अब भी फरार
तिहरे हत्याकांड के तीन आरोपी गिरफ्तार, तीन अब भी फरार

Rajesh Mishra | Updated: 15 Sep 2019, 02:18:59 AM (IST) Alirajpur, Alirajpur, Madhya Pradesh, India

Alirajpur News : जमीन विवाद में 6 आरोपियों ने की थी अपने ही रिश्तेदारों की हत्या

आलीराजपुर. जिले के सोंडवा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम भोरण में जमीन विवाद के चलते छह आरोपियों ने अपने ही रिश्तेदारों की 9-10 सितंबर की दरम्यानी रात में धारदार हथियारों व देशी कट्टे से एक ही परिवार के तीन लोगों की निर्ममता पूर्वक हत्या कर दी थी। इसमें पुत्र व माता-पिता की मौत हो गई थी। यह हत्याकांड पूरे प्रदेश मेें चर्चित हो गया। पुलिस के लिए आरोपियों को गिरफ्तार करना किसी चुनौती से कम नहीं था क्योंकि सभी आरोपी हत्या करने के बाद सपरिवार फरार हो गए थे। पुलिस ने इस जघन्य हत्याकांड के छह आरोपियों में से तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। इसकी जानकारी एसपी विपुल श्रीवास्तव ने शनिवार को पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में दी।
एसपी विपुल श्रीवास्तव ने पत्रकार वार्ता में खुलासा किया कि सभी आरोपी मृतक के करीबी रिश्तेदार होकर आपस में काका-बाबा की संतानें थीं जिनका पुश्तैनी जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। इस जमीन विवाद का मामला न्यायालय में चल रहा था। इसका फैसला गत मार्च 2019 में आया था, जिसमें विवादित जमीन को लटू के हक में देने का न्यायालय ने फैसला दिया था। इसके बाद से ही आरोपी परिवार रंजिश रखे था। इस हत्याकांड में मुख्य आरोपी अमरसिंह पिता अनसिंह सहित उसके पुत्र रेमसिंह पिता अमरसिंह को पुलिस टीम ने कुंंभी के जंगल से गिरफ्तार किया। वहीं एक अन्य आरोपी रुमाल को ग्राम छोटी वेगलगांव के जंगल से गिरफ्तार किया। शेष तीन आरोपी मुकेश पिता अमरसिंह, सेमसिंह पिता अमरसिंह, लावरिया पिता रुमाल अभी फरार हैं जिनकी तलाश पुलिस टीम सरगर्मी से कर रही है।
पुलिस टीम गठित की
इस हत्याकांड के बाद पुलिस टीम गठित की गई जिसमें एसपी विपुल श्रीवास्तव के निर्देशन एएसपी सीमा अलावा के मार्गदर्शन व एसडीओपी धीरज बब्बर के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित की गई जिसमें सोंडवा टीआई सुनिता मंडलोई, चौकी प्रभारी अंकिता जाट, चौकी प्रभारी छकतला नाथूसिंह रंधा, उपनिरीक्षक बीएस धमावत, सहायक उप निरीक्षक राजेंद्र भदौरिया शामिल थे। आरोपियों की गिरफ्तारी में पुलिस टीम के सदस्य फूलमाल चौकी प्रभारी जानूसिंह गरवाल,सहायक उप निरीक्षक केएस नायक, आरक्षक प्रदीप, शंकर, सयाराम, विरेंद्र, प्रकाश, प्रदीप चौकी फूलमाल चालक, रोशन, चालक आरक्षक देवेंद्र, शोभाराम, अमरसिंह ,मनोज का सराहनीय योगदान रहा है। टीम का हौसला बढ़ाने के लिए एसपी श्रीवास्तव ने टीम को पृथक से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।
हत्याकांड की मुख्य वजह जमीन
पकड़े गए तीन आरोपी में से अमरसिंह व रूमालसिंह आपस में सगे भाई हैं व रेमसिंह मुख्य आरोपी का पुत्र है। मुख्य आरोपी अमरसिंह को जब पुलिस कंट्रोल रूम में मीडिया के सामने पेश किया गया तो उसकी शारीरिक हालत देखकर यह कोई नहीं कह सकता कि उसने निर्ममता से हत्याएं की होंगी। पुलिस को आरंभिक जांच में पता चला है कि तीनों पकड़े गए आरोपी किसी भी प्रकार का नशा भी नहीं करते हंै और जमीन विवाद ही इस हत्यकांड की मुख्य वजह है। तीनों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। इस मामले में सभी छह नामजद आरोपियों के खिलाफ सोंडवा थाने पर प्रकरण क्रमांक 119/19 में भादवि की धारा 302,307, 34, 25, 27 आम्र्स एक्ट में प्रकरण दर्ज किया गया था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned