संगम की रेती पर 204 वर वधू ने लिए सात फेरे

उत्तर प्रदेश श्रम मंत्रालय ने करवाया सामूहिक विवाह

By: प्रसून पांडे

Published: 09 Dec 2017, 10:29 PM IST

इलाहाबाद संगम नगरी में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 204 बेटियों की विवाहोत्सव समारोह का आयोजन किया गया ।संगम की रेती पर वर वधु ने वैदिक मंत्रोचार के बीच सात फेरे लिए। इस कार्यक्रम में डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा सामूहिक विवाह में नव विवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। श्रम विभाग की ओर से 204 जोड़ों का सामूहिक विवाह का आयोजन हुआ। जिसमें प्रदेश के प्रभारी मंत्री आशुतोष टण्डन श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या श्रम राज्य मंत्री मनोहर लाल मन्नू कोरी मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नन्दी भी मौजूद रहे। संगम नगरी के सामुहिक समारोह श्रम विभाग की ओर से किया गया।श्रम विभाग की ओर से प्रदेश में पहली बार इस तरह के सामुहिक शादी समारोह का आयोजन किया गया। इस शादी समारोह में प्रदेश के डिप्टी सहित कई मंत्री वर वधु को आशिर्वाद देने पहुंचें।

श्रम मंत्रालय की ओर से आयोजित शादी समारोह के लिए परेड ग्राउंड पर कड़े सुरक्षा इन्ताजाम के बीच विवाहोत्सव सम्पन्न कराया गया। परेड ग्राउंड में भारी फ़ोर्स के आलावा की ड्रोन कैमरे से निगरानी की गई।आपको बता दे उत्तर प्रदेश सरकार ने पंजीकृत मजदूरों की 204 बेटियों का कन्यादान करने का जिम्मा उठाया है। पंजीकृत मजदूरों की 204 बेटियों का सामूहिक विवाह परेड मैदान में कराया गया।उत्तर प्रदेश सरकार एवं श्रम विभाग की तरफ से संचालित पुत्री विवाह योजना के तहत इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है ।दुल्हन और दूल्हे की तरफ से चार.चार परिजनों का समारोह में आमंत्रित किया गया।अपनी बेटियों की सामूहिक शादी कर रहे हर मजदूर के बैंक खाते में 55000 रुपए ट्रांसफर किये गए है।।

श्रम विभाग प्रदेश में पहली बार सामुहिक शादी समारोह का आयोजन कराया है। श्रम विभाग की ओर से आर्थिक रूप से कमजोर पंजीकृत श्रमिकों की बेटियों की शादी कराई गई। श्रम विभाग सामूहिक विवाह का पहला आयोजन इलाहाबाद मंडल के इलाहाबाद, फतेहपुर, कौशाम्बी और प्रतापगढ़ के कुल 204 जोड़ों की शादी करवायी। जिसमें इलाहाबाद की सर्वाधिक 126 बेटियां, फतेहपुर की 27, कौशाम्बी की 40 और प्रतापगढ़ की 11 बेटियों की शादी करायी जा रही है। इसके आलावा16 अन्य और वर वधुवो का विवाह कराया गया है।

इस दौरान कन्याओं को विदाई के दौरान श्रम विभाग की ओर से नकद 55 हजार रूपये दिए गये है।श्रम विभाग की ओर से यह शादी प्रदेश सरकार की योजना उ0प्र0 भवन एवं अन्य निर्माण कर्मकार अधिनियम-1996 के तहत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों की बेटियों की कराई जा रही है।विवाह समारोह में डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। इनके अलावा शादी समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में श्रम सेवायोजन एवं समन्वय मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या, कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन, कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी, श्रम सेवायोजन राज्य मंत्री मनोहर लाल मन्नू कोरी उपस्थित रहे।

प्रसून पांडे
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned