scriptAllahabad High Court: Order refusing to transfer in RPF canceled | Allahabad High Court : रेलवे सुरक्षा विशेष बल से आरपीएफ में तबादले से इंकार करने का आदेश रद्द | Patrika News

Allahabad High Court : रेलवे सुरक्षा विशेष बल से आरपीएफ में तबादले से इंकार करने का आदेश रद्द

यह आदेश न्यायमूर्ति मंजू रानी चौहान ने उमाकांत व 234 अन्य आरपीएफ जवानों की याचिका पर वरिष्ठ अधिवक्ता विजय गौतम व एडवोकेट प्रशांत मिश्र को सुनकर दिया है। याचीगण आरपीएफ स्पेशल फोर्स की विभिन्न बटालियन में तैनात हैं। नियुक्ति के समय लागू नियम के अनुसार विशेष बल में पांच वर्ष सेवा पूरी करने के बाद वे पसंदीदा जोन में स्थानांतरण की मांग कर सकते हैं।

इलाहाबाद

Published: April 24, 2022 11:15:01 am

प्रयागराज: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रेलवे सुरक्षा विशेष बल में तैनात जवानों को उनकी पसंद के रेलवे पुलिस बल के जोन में स्थानांतरित कर तैनाती का निर्देश दिया है। न्यायालय ने आरपीएफ विशेष बल से आरपीएफ में स्थानांतरण रोकने के 28 दिसंबर 2017 को जारी पुनरीक्षित निर्देश को रद्द कर दिया है। यह आदेश न्यायमूर्ति मंजू रानी चौहान ने उमाकांत व 234 अन्य आरपीएफ जवानों की याचिका पर वरिष्ठ अधिवक्ता विजय गौतम व एडवोकेट प्रशांत मिश्र को सुनकर दिया है।
Allahabad High Court : रेलवे सुरक्षा विशेष बल से आरपीएफ में तबादले से इंकार करने का आदेश रद्द
Allahabad High Court : रेलवे सुरक्षा विशेष बल से आरपीएफ में तबादले से इंकार करने का आदेश रद्द
याचीगण आरपीएफ स्पेशल फोर्स की विभिन्न बटालियन में तैनात हैं। नियुक्ति के समय लागू नियम के अनुसार विशेष बल में पांच वर्ष सेवा पूरी करने के बाद वे पसंदीदा जोन में स्थानांतरण की मांग कर सकते हैं। याचियों की नियुक्ति 2015 में हुई। उसके बाद से वे विशेष बल में ही रहे।
पांच वर्ष की सेवा पूरी होने के बाद मुख्य सुरक्षा आयुक्त उत्तर पूर्व रेलवे गोरखपुर के 28 दिसंबर 2017 को जारी संशोधित कार्यालय आदेश 32 से उन्हें स्थानांतरण करने से मना कर दिया गया। इस पुनरीक्षित आदेश को चुनौती देते हुए कहा गया कि इससे पूर्व हाईकोर्ट ने हरिश्चंद्र व 62 अन्य के मामले में स्पेशल फोर्स से आरपीएफ में स्थानांतरण करने का आदेश दिया है।
यह प्रकरण भी उसी आदेश की परिधि में आता है। सुनवाई के बाद कोर्ट ने 28 दिसंबर 2017 का पुनरीक्षित आदेश रद्द करते हुए याचियों को वरिष्ठता व पसंद के आधार पर मनचाहे जोन में तैनाती देने को कहा है।
यह भी पढ़ें

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा-दादी की तुलना में बच्चों के लिए मां का अधिकार अधिक

न्यायमूर्ति राहुल चतुर्वेदी ने नाबालिक बच्ची सान्या शर्मा की तरफ से मां सीमा शर्मा द्वारा दायर एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर दिया है। दोनों बच्चे अपनी दादी के साथ रह रहे हैं। मां ने उनकी नैसर्गिक संरक्षक होने के नाते अभिरक्षा की मांग की थी। मामले के अनुसार सीमा शर्मा (बच्चों की मां) ने मार्च 2016 में कपिल शर्मा से शादी की थी। जिनकी मौत हो गई।इनसे 2 बच्चे पैदा हुए, जिसमें एक 5 साल की बेटी और ढाई साल का एक बेटा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितBy-Elections 2022: तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजे आजमेरे पास ममता बनर्जी को मनाने की ताकत नहीं: अमित शाहपंजाब: भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार IAS के बेटे ने खुद को गोली मारी, अधिकारी की पत्नी ने विजिलेंस टीम पर लगाया हत्या का आरोपTMC सांसद अभिषेक बनर्जी 19 जुलाई को उत्तर बंगाल का करेंगे दौरा, रैली आयोजित करने की जताई जा रही संभावनाTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.