Narendra Giri Death Case : 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए योगगुरु आनंद गिरि और आद्या तिवारी

Mahant Narendra Giri Death Case- महन्त आनंद गिरि ने खुद को निर्दोष बताया और कहा कि मुझे साजिश के तहत फंसाया जा रहा है

By: Hariom Dwivedi

Updated: 22 Sep 2021, 07:38 PM IST

प्रयागराज. Mahant Narendra Giri Death Case- महंत नरेंद्र गिरि सुसाइड मामले में जिला न्यायालय ने महंत आनंद गिरि और लेटे हुए हनुमान मंदिर की मुख्य पुजारी आद्या तिवारी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। वहीं, यूपी पुलिस ने मामले के तीसरे आरोपी संदीप तिवारी को भी गिरफ्तार कर लिया है। संदीप आद्या तिवारी का बेटा है।

आनंद गिरि ने खुद को बताया निर्दोष
बुधवार को शाम महन्त आनंद गिरि न्यायालय में पेश हुए। न्यायालय के सामने महन्त ने खुद को निर्दोष बताया और कहा कि मुझे साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। मेरे गुरुजी मेरे आराध्य तुल भगवान थे। मेरा विवाद सुलझ गया था। आनंद गिरि ने अपने को निर्दोष बताते हुए पुलिस जांच में सहयोग करने की बात कही है।

पुलिस ने कई बिंदुओं पर की पूछताछ
हरिद्वार से प्रयागराज लाए जाने के बाद पुलिस ने आनंद गिरि से कई बिंदुओं पर पूछताछ की है। आद्या तिवारी से पुलिस ने पूछताछ करने के बाद न्यायालय में पेश किया है।

यह भी पढ़ें : साल भर बाद महंत नरेंद्र गिरि की समाधि पर बनेगा भगवान शिव का मंदिर

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned