फूलपूर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने खेला दांव, इस नेता को टिकट देकर सपा-बसपा और भाजपा की बढ़ाई मुश्किल

कांग्रेस ने अपना दल के इस नेता को इस सीट से बनाया उम्मीदवार

By: sarveshwari Mishra

Published: 29 Mar 2019, 10:36 AM IST

प्रयागराज. देश की वीआईपी सीटों में शुमार फूलपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस पार्टी ने बड़ा दांव खेल दिया है। कांग्रेस ने अपना दल (कृष्णा पटेल गुट) के महासचिव पंकज निरंजन को फूलपुर संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी ने मैदान में उतारा है। अपना दल (कृष्णा पटेल गुट) के साथ कांग्रेस ने गोंडा बस्ती संसदीय सीट के लिए समझौता किया था। कृष्णा गुट की मांग थी कि फूलपुर संसदीय सीट भी उन्हें दी जाए।

 


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बाबा अवस्थी ने बताया कि फूलपुर से गांधी नेहरू परिवार सहित पूरी कांग्रेस पार्टी का भावनात्मक रिश्ता है । इसलिए यहां से कांग्रेस का लड़ना तय था।अब कांग्रेस की टिकट पर पंकज निरंजन चुनाव लड़ेंगे। पंकज की उम्मीदवारी की घोषणा होने के बाद स्थानीय स्तर पर कांग्रेस नेताओं को आश्चर्य हो गया। क्योंकि सभी को उम्मीद थी कि फूलपुर से प्रियंका गांधी चुनाव लड़ सकती है। लेकिन कांग्रेस पार्टी ने जातीय समीकरण का बड़ा दांव खेल के गठबंधन और भाजपा दोनों को चौंका दिया है।


बता दें कि फूलपुर जाति समीकरण के तहत पटेल बिरादरी के उम्मीदवारों के लिए अब तक मुफीद साबित होती रही है। कभी डॉ सोनेलाल पटेल की कर्मभूमि रही फूलपुर सीट पर अब उनके दामाद अपनी किस्मत आजमाने उतर रहे। पंकज निरंजन कांग्रेस की सिंबल पर चुनाव लड़ेंगे इसके पहले उन्हें अपना दल कृष्णा पटेल गुट के महासचिव पद से इस्तीफा देना पड़ा। और दिल्ली में राहुल और प्रियंका गांधी के नेतृत्व में उन्होंने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन की।


बता दे कि फूलपुर लोकसभा सीट पर लंबे समय से प्रियंका गांधी को उम्मीदवार बनाने की मांग चल रही थी। ऐसे में कांग्रेस इस सीट नहीं छोड़ सकती थी। पंडित जवाहरलाल नेहरू की फूलपुर सीट पर कांग्रेस कई दशक बाद अपने मजबूत हाथ के ताल ठोकने को उतार रही है। टिकट घोषित होने से पहले तक चर्चा रही कि पंकज को मिर्जापुर से कृष्णा पटेल गुट उतरेगा और ललितेशपति त्रिपाठी को कही और से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। साथ ही इस बात की भी चर्चा रही कि बाहुबली अतीक अहमद कृष्णा पटेल गुट से अपनी पत्नी को मैदान में उतार सकते हैं। कांग्रेस का समर्थन कृष्णा पटेल गुट को मिलेगा। लेकिन सभी आकलन और चर्चाओं से इतर कांग्रेस ने पंकज निरंजन को उम्मीदवार बनाया है।


वहीं अपना दल में चल रहे मां बेटी के विवाद के बीच पति के सीट पर दामाद को उतार कृष्णा पटेल गुट ने अपनी मजबूती दिखाई है। दरअसल फूलपुर लोकसभा सीट पर डॉ सोनेलाल पटेल अपना भाग्य आजमाते रहे हैं। हालांकि यहां से उन्हें संसद जाने का मौका नहीं मिला लेकिन यहां की जनता के बीच सोने लाल पटेल की लोकप्रियता किसी सांसद से कम नहीं थी।

BY- Prasoon Pandey

Show More
sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned