बाहुबली अतीक अहमद की पिस्टल व राइफल पुलिस ने किया बरामद, कई करीबियों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त

पिस्टल और राइफल का लाइसेंस सालों पहले निरस्त होने के बावजूद अतीक ने जमा नहीं कराई थी।

प्रयागराज. छोटे भाई और पूर्व विधायक खालिद अजीम अशरफ के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने अब पूर्व सांसद बाहुबली अतीक अहमद व उनके गैंग पर शिकंजा और कस दिया है। पुलिस ने अतीक अहमद के वो असलहे भी बरामद कर लिए हैं जिनका लाइसेंस 13 साल पहले निरस्त हो जाने के बावजूद अब तक जमा नहीं किए गए थे। पुलिस ने न सिर्फ असलहे बरामद किए हैं बल्कि अतीक के सात करीबियों और गुर्गों के शास्त्र लाइसेंस श्निरस्त करा कर तीन की राइफल और बंदूक जमा करा ली है। इसके पहले पुलिस अतीक के छोटे भाई अशरफ को रिमांड पर लेकर उसकी पिस्टल भी बरामद कर चुकी है।

 

2007 में निरस्त असलहा 2020 में बरामद

सीओ कोतवाली अमित श्रीवास्तव ने मीडिया को बताया है की अतीक अहमद के नाम से जारी राइफल और पिस्टल का लाइसेंस 2007 में तत्कालीन डीएम ने निरस्त कर दिया था। नोटिस जारी करने के बावजूद अतीक ने यह असलहे जमा नहीं कराए थे। बीते 17 मार्च 2020 को खुल्दाबाद पुलिस इस मामले में अतीक अहमद के खिलाफ खुल्दाबाद थाने में मुकदमा दर्ज कर पिस्टल और राइफल बरामद करने में जुटी थी। आखिरकार अब जाकर पुलिस को सफलता मिली।

 

कर्बला स्थित कार्यालय में छिपा रखे थे असलहे

मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस लगातार अतीक के करीबियों को पकड़ कर पिस्टल और राइफल की बरामदगी में जुटी थी, जिसे अब जाकर सफलता मिली। पुलिस को सुराग मिला की असलहे कर्बला स्थित अतीक के कार्यालय में छिपाकर रखे गए हैं। मंगलवार को खुल्दाबाद इंस्पेक्टर विनीत सिंह ने अपनी टीम के साथ कार्यालय पर छापेमारी की। करीब 1 घंटे तक खोजबीन के बाद आखिरकार कार्यालय की ऊपरी मंजिल पर बेडरूम में रखी अलमारी से राइफल और पिस्टल व कारतूस बरामद कर लिए गए।

 

अतीक के इन करीबियों के निरस्त हुए असलहे

अतीक अहमद की पिस्टल और राइफल बरामद करने के साथ ही पुलिस ने उनके गुर्गों और करीबियों सभी 7 लोगों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त करा तीन असलहे बरामद कर उन्हें थाने में जमा करा लिया गया। धूमनगंज पुलिस ने मरियाडीह निवासी मो. तालिब, आफान, हटवा गांव निवासी जैद अख्तर, कसारी-मसारी के आसिफ दुर्रानी और नसीरपुर सिलना निवासी गुलफुल के बेटे बदूद व आबिद अली तथा रसूलपुर के मो. असगर के शस्त्र लाइसेंस निरस्त करा दिए। मो. तालिब और गुलफुल के घर से तीन असलहे बरामद कर थाने में जमा करा दिया।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned