इलाहाबाद विवि में बमबाजी, शिक्षक आवास पर फेंके गये कई बम

इलाहाबाद विवि में बमबाजी, शिक्षक आवास पर फेंके गये कई बम
Allahabad University

विवि प्रशासन और छात्रों के बीच हॉस्टल खाली कराने को लेकर जारी है बवाल

इलाहाबाद. इलाहाबाद विश्वविद्यालय में विवि प्रशासन और छात्रों के बीच चल रहा बवाल थमने का नाम नही ले रहा है। हॉस्टल वाश आउट कराने के चौथे दिन के दौरान एक बार फिर अराजक विवि के आस पास जमकर बम फोड़े गये और बमबाजी कर दहशत फैलाने की कोशिश की है। मालूम हो की हाईकोर्ट के आदेश के तहत गुरूवार को यूनिवर्सिटी के सर सुंदर लाल छात्रावास व डायमंड जुबली हॉस्टल में वाश आउट की कार्रवाई थी, इस दौरान जब यूनिवर्सिटी व पुलिस प्रशासन की ओर से सुंदर लाल छात्रावास में दविश दी, तो हॉस्टल के गेट पर एक के बाद एक बम फोड़ कर दहशत फैल दी । दहशत पैदा करने की कोशिश जब तक पुलिस बल जाती बमबाजी करने वाले भाग निकले।

यूनिवर्सिटी के चीफ प्रॉक्टर का कहना है कि बम फटने की आवाज काफी ज़ोरदार थी । चीफ प्रॉक्टर ने बताया कि इसके पहले बीती रात सुंदर लाल हॉस्टल में कई बम फोड़े गए तो वही चैथम लाइंस स्थित टीचर्स क्वाटर में भी कई बम फेक कर दहशत फैलाने की कोशिश की गई है ।


यह भी पढ़ें: इलाहाबाद विश्विद्यालय बना जंग का अखाड़ा, पुलिस बल तैनात



लेकिन इसके बावजूद भी हॉस्टल वाश आउट की कार्रवाई जारी रखी जा रही है। यूनिवर्सिटी प्रशासन का आरोप है कि जिस तरह इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने यूनिवर्सिटी के हॉस्टल को लेकर प्रतिक्रिया दी है कि वहां अराजक तत्वों का कब्जा है ।ऐसे में सिलसिलेवार बमबाजी ने इसे साबित किया है। यूनिवर्सिटी के हॉस्टल और टीचर क्वार्ट पर किये गए बमबाजी को लेकर थाने में एफआईआर दर्ज कराया जाएगा।

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाई कोर्ट के आदेश के तहत 21 से 27 मई के बीच यूनिवर्सिटी के सभी हॉस्टलों को खाली कराने के आदेश के रूप में जिला प्रशासन व यूनिवर्सिटी प्रशासन की ओर से वाश आउट की कार्रवाई की जा रही है। हॉस्टल खाली कराए जाने के दौरान छात्रों ने डायमंड जुबली हॉस्टल गेट पर यूनिवर्सिटी प्रशासन राज्य सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी व प्रदर्शन कर विरोध जताया है। फिलहाल यूनिवर्सिटी प्रशासन ने दोनों हॉस्टल के सभी कमरों को खाली कराकर कर उसमें ताला लगा दिया गया है ।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned