UPPSC :लोकसेवा आयोग के अध्यक्ष ने प्रतियोगी छात्रों के लिए खोले दरवाजे ,सप्ताह में एक दिन करेंगे मुलाक़ात

UPPSC :लोकसेवा आयोग के अध्यक्ष ने प्रतियोगी छात्रों के लिए खोले दरवाजे ,सप्ताह में एक दिन करेंगे मुलाक़ात
lok seva aayog

Prasoon Kumar Pandey | Updated: 11 Jul 2019, 03:02:38 PM (IST) Allahabad, Allahabad, Uttar Pradesh, India

-अखिलेश यादव सरकार में हुई भर्तियों की चल रही सीबीआई जाँच

- आयोग को नियमित करना सरकार की बड़ी चुनौती

यूपी में सीबीआई जाँच करती रही और एसटीएफ ने कर दी गिरफ्तारी जानिए क्या है मामला

प्रयागराज | यूपी पब्लिक सर्विस कमीशन के नवनियुक्त चेयरमैन डॉ प्रभात कुमार ने अभ्यर्थियों व आम जनता का भरोसा जीतने के लिए अपने दफ्तर के दरवाजे खोल दिए है। प्रभात कुमार ने अभ्यर्थियों व आम लोगों से सीधे मुलाकात करने का फैसला किया है। उन्होंने गुरूवार को दुसरे दिन भी लोगों से मुलाकात कर उनसे संवाद किया। उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनी और साथ ही उनसे सुझाव भी मांगे। अभ्यर्थियों ने नये चेयरमैन की इस पहल का स्वागत किया है और यह उम्मीद जताई है कि इससे आयोग की साख पर लगा बट्टा कम होगा और उसकी खोई हुई गरिमा फिर से बहाल हो सकती है।

हालांकि प्रतियोगी छात्रों की भीड़ ज़्यादा होने की वजह से तमाम लोगों को मिले बिना ही मायूस होकर वापस लौटना पड़ा। यूपी पब्लिक सर्विस कमीशन के नये चेयरमैन प्रभात कुमार ने दो जुलाई को अपना कार्यभार ग्रहण किया था। वह रिटायर्ड आईएएस अफसर हैं और उनकी छवि बेहद तेज तर्रार व ईमानदार अफसर की रही है। उन्होंने कार्यभार ग्रहण करते ही सबसे पहले आयोग के कई कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की और सभी भर्तियां साल भर में पूरी करने का बड़ा एलान किया था। पिछले कुछ सालों में कमीशन में गोपनीयता के नाम पर काफी कुछ छिपाया गया। इससे न सिर्फ कमीशन के खिलाफ लोगों में अविश्वास बढ़ता गया बल्कि तमाम भर्तियों में गड़बड़ी के भी आरोप लगे।

यह भी पढ़ें -यूपी में सीबीआई जाँच करती रही और एसटीएफ ने कर दी गिरफ्तारी जानिए क्या है मामला

सपा सरकार में हुई भर्तियों की सीबीआई जांच हो रही है तो योगी राज में परीक्षा नियंत्रक अंजूलता कटियार को जेल जाना पड़ा है। नये चेयरमैन प्रभात कुमार ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद प्रतियोगी छात्रों और उनके अभिभावकों के साथ ही आम जनता से मुलाकात कर उनसे बातचीत करने का एलान किया था। इसके जरिये वह लोगों से संवाद स्थापित कर उनकी समस्याएँ सुनते हुए उनसे सुझाव मांगना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने हर बुधवार का दिन तय किया। मुलाकात करने वालों को ईमेल के ज़रिये डिटेल्स भेजनी होगी। दोपहर तीन बजे से शाम छह बजे तक चेयरमैन लोगों से मुलाकात करेंगे। दुसरे दिन भी लोगों के आने पर उन्होंने मुलाक़ात की लेकिन अब हर बुधवार को ही मुलाक़ात करेंगे मुलाकात करने वाले लोग उनके जवाब से संतुष्ट थे। लोगों का कहना है कि कमीशन की यह पहल बेहद अच्छी है और आने वाले दिनों में इसके शानदार नतीजे भी देखने को मिल सकते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned