इंदु सरकार के रिलीज से पहले मधुर भंडारकर पर इनाम घोषित करने वाले कांग्रेस नेता रिहा

आपातकाल एवं पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी की कार्यशैली पर आधारित फिल्म इंदु सरकार का विरोध कर रही है कांग्रेस

इलाहाबाद. 1975 के दौर में देश में लगाये गये आपातकाल एवं पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी की कार्यशैली पर आधारित फिल्म इंदु सरकार के विरोध में फिल्म के निर्देशक मधुर भंडारकर के मुंह पर कालिख पोतने पर ईनाम देने की घोषणा करने वाले कांग्रेस नेता हसीब अहमद को निजी मुचलके पर बुधवार को रिहा कर दिया गया।


कांग्रेस नेता हसीब अहमद पर इलाहाबाद के थाना सिविल लाइन्स में गंभीर धाराओ में मुकदमा दर्ज किया गया था, कांग्रेस नेता ने जिला न्यायलय में बुधवार को आत्मसमर्पण कर दिया और कांग्रेस नेता की ओर से मुक़दमे की पैरवी कर रहे इलाहाबाद में वक़ील सैय्यद नसीम ने किया और जिरह करते हुए कहा की ये मुकदमा लगाकर पुलिस लोकतंत्र में उठ रही आवाज़ को दबाने का प्रयास कर रही है ।

यह भी पढ़ें:

चार पहिया वाहन पर बीजेपी का झंडा लगा कर हाइवे पर करते थे लूटपाट


स्पेशल सीजेएम ने सरकारी वकील से इस मुक़दमे का तथ्य जानना चाहा लेकिन वह देने में असमर्थ थे। ऐसे में स्पेशल सीजेएम ने कांग्रेस नेता हसीब अहमद को 20-20 हजार के निजी मुचलके पर तत्काल रिहा कर दिया। कांग्रेस नेता हसीब अहमद ने कहा कि यह सत्य की जीत है और फिल्म इंदु सरकार नेहरू गांधी परिवार को बदनाम करने की साजिश है जिसका विरोध लोकतांत्रित तरीके से किया जायेगा।
Show More
अखिलेश त्रिपाठी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned