36 यात्रियों की मौत से रेलवे ने लिया सबक, इस स्टेशन पर रखेगा ड्रोन से नजर और ये बनाया प्लान

लखनऊ से इलाहाबाद के बीच एक सुपरफास्ट ट्रेन चलाने की तैयारी

By: arun ranjan

Updated: 26 Jan 2018, 09:22 AM IST

इलाहाबाद. संगम नगरी इलाहाबाद में 2019 कुंभ का भव्य आयोजन होना है। उत्तर मध्य रेलवे ने महाकुंभ 2013 में इलाहाबाद जंक्शन पर हुए हादसे से सबक लेते हुए इस बार इलाहाबाद जंक्शन पर ड्रोन से नजर रखने का प्लान तैयार किया है। ताकि भीड़ पर नजर रखी जा सके। साथ ही भीड़ को तत्काल हटाने के लिए सभी स्टेशनों के बाहर बस स्टैंड भी बनाएगा।

महाकुंभ 2013 के दौरान मौनी अमावस्या के दिन इलाहाबाद जंक्शन पर भीड़ का दबाव काफी हो गया था। प्लेटफार्म पर पांव रखने तक की जगह नहीं थी। इसी बीच अचानक गाड़ी के प्लेटफार्म बदलने की घोषणा होते ही भी भगदड़ मच गई। हादसे में 36 लोगों की मौत हो गई थी। 2013 महाकंुभ जैसा हादसा ना हो इसे ध्यान में रख कुंभ 2019 के दौरान रेलवे इलाहाबाद जंक्शन के विभिन्न प्लेटफार्म और जंक्शन के बाहर ड्रोन से श्रद्धालुओं की भीड़ पर नजर रखेगा।

प्लेटफार्म या जंक्शन के बाहर भीड का दबाव होते ही प्रशासन के माध्यम से भीड़ नियंत्रित किया जा सके। ताकि कोई बड़ा हदसा ना हो सके। इस संबंध मंे एनसीआर महाप्रबंधक एमसी चैहान ने एक बैठक के दौरान कमिश्नर डाॅ.आशीष गोयल को जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने कुंभ 2019 को लेकर विभिन्न तैयारियों को लेकर चर्चा की। इस दौरान लखनऊ से इलाहाबाद के बीच एक सुपरफास्ट ट्रेन चलाने की बात भी कही गई।

एनसीआर जीएम ने बताया कि उत्तर रेलवे का लखनऊ मण्डल इस सम्बंध में सहमति मुख्यालय को भेजेगा। श्रद्धालुओं की भीड़ को ध्यान में रख इलाहाबाद जंक्शन, सूबेदारगंज, छिवकी, नैनी, प्रयाग, रामबाग, दारागंज व झूंसी स्टेशन पर बसों की पार्किंग बनाने का भी निर्णय लिया गया। इसके लिये एक विशेषज्ञ एजेंसी को सर्वे के लिए हायर करने व कार्य को प्राथमिकता से पूरा करने का भी निर्णय हुआ।

इसके अलावा कुंभ मेला 2019 को ध्यान में रख सूबेदारगंज स्टेशन को टर्मिनल स्टेशन के रूप में विकसित किया जा रहा है। कार्य नवम्बर 2018 तक पूरा कर लिया जायेगा। गुरूवार शाम तक चली बैठक में पानी की टंकी, बेगम बाजार, नैनी, करछना , भीरपुर व कौशाम्बी में निर्माणाधीन रोड ओवर ब्रिजों पर भी चर्चा हुई। सभी रोड ओवर ब्रिजों का कार्य कुम्भ मेले के पहले पूरा किए जाने की बात कही।

इस दौरान नवाब यूसुफ रोड के चैड़ीकरण, सौंदर्यीकरण, लीडर रोड करने की बात कही गई। इस दौरान जीटी रोड से झलवा फ्लाई ओवर, एम.एन.एन.आई.टी के निकट स्थित लेवल क्रासिंग के रोड ओवरब्रिज को अक्टूबर 2018 से पहले पूरा करने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा एनसीआर के अलावा पूर्वोत्तर रेलवे से जुड़े विभिन्न कार्यों को भी कुंभ से पहले पूरा करने की बात कही गई। बैठक में एडीजी इलाहाबाद, डीएम, एसएसपी सहित अन्य रेल मंडल के अधिकारी मौजूद रहे।

 

Show More
arun ranjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned