सोनू यादव हत्याकांड के बाद गैंगवार की आशंका, सतर्क हुई पुलिस

सोनू यादव हत्याकांड के बाद गैंगवार की आशंका, सतर्क हुई पुलिस

Rafatuddin Faridi | Publish: Jun, 14 2018 10:51:09 AM (IST) Allahabad, Uttar Pradesh, India

इलाहाबाद के धूमनगंज इलाके सोनू यादव की गोली मारकर की गयी थी हत्या।

 

प्रसून पांडेय
इलाहाबाद. सोनू यादव की हत्या के बाद से इलाहाबाद के धूमनगंज इलाके में गैंगवार की आशंका बढ़ गई है। 50 हजार का इनामी गदऊ पासी उस इलाके में पहले से आतंक का पर्याय बना हुआ है। सोनू गदऊ गैंग का करीबी बताया जा रहा है। ऐसे में अब गदऊ और उसके गुर्गे सोनू के कातिलों जवाबी हमला कर सकते हैं। इस तरह की आशंका से पुलिस प्रशासन खासा सतर्क है। सोनू यादव प्रापर्टी डीलर के साथ मुंडेरा बाजार में तहबाजारी भी वसूलता था। मंगलवार को दोपहर करीब तीन बजे वह अपने घर से निकला था तभी उसका दूसरे गुट के कुछ लोगों से आमना-सामना हो गया। फायरिंग और बमबाजी हुई। करीब एक दर्जन हथियारों से लैस बदमाशों ने सोनू को दौड़ा कर गोली मार दी।


शहर का धुमनगंज इलाका लगातार आपरधिक घटानाओ के भेट चढ़ रहा है। सोनू हत्याकांड ने सबको दहशत में ला दिया है। स्थानीय लोगों को अब ऐसा लगने लगा है कि जाने कब क्या हो जाए। मृतक सोनू का नाम कुख्यात अपराधी गदउ गैंग से जोड़ा जा रहा है। आगर यह सच है तो आने वाले दिनों में किसी बड़ी वारदात और गैंगवार को इनकार नहीं किया जा सकता। हालांकि पुलिस पूरी तरह सतर्क है।


जिले के धूमनगंज के मुंडेरा इलाके में प्रापर्टी डीलर सोनू यादव की बेखौफ बदमाशों ने गोलियों से छलनी कर दिन दहाडे मंगलवार को हत्या कर दी। बुधवार को दोपहर बाद उसके शव का पोस्टमार्टम किया गया। जिसमें उसके शरीर में छह गोलियों के निशान मिले, जबकि डॉक्टरों ने उसके शरीर से 315 बोर की चार गोलियां ही बरामद की हैं। हत्या के बाद बवाल की आशंका को देखते हुए पूरे धूमनगंज इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दी जा रही है, लेकिन अब किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस की मानें तो वह वह दर्जन भर से अधिक लोगों को उठाकर पूछताछ कर रही है।


मृतक सोनू यादव के परिजनों की तहरीर पर 10 लोगों के खिलाफ नामजद और आठ से 10 अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बुधवार की देर शाम कड़ी सुरक्षा के बीच उसका अन्तिम संस्कार कर दिया गया। पुलिस की टीम हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिये लगातार दबिश दे रही है। मृतक के परिजनों ने सोनू मोनू गोलू मनीष यादव उर्फ पप्पू संदीप राजा भैया बन्टी पाल लकी यादव कुलदीप व गौतम के खिलाफ तहरीर दी है। सभी आरोपी फरार है और उनके संदिग्ध ठिकानों पर दबिस दी जा रही है।

Ad Block is Banned