रेडियो के माध्यम से अंग्रेजी बोलना सीखेंगी सरकारी स्कूल की छात्रायें

रेडियो के माध्यम से अंग्रेजी बोलना सीखेंगी सरकारी स्कूल की छात्रायें
Radio

यूनिसेफ के सहयोग से शुरू हुआ प्रोजेक्ट पर काम

इलाहाबाद. अब रेडियो से कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की छात्राएं फर्राटेदार अंग्रेजी बोलना सीखेंगी। 90 एपिसोड में छात्राओं को अंग्रेजी सीखने के प्रोजेक्ट पर कार्य शुरू हो गया है। इसका लाभ प्रदेश की एक लाख 60 हजार से ज्यादा परिषदीय स्कूल के विद्यार्थियों को मिलेगा।

सर्व शिक्षा अभियान की ओर यूनिसेफ के सहयोग से " आओ अंगेजी सीखें" प्रोजेक्ट पर कार्य हो रहा है। जिसके तहत यूपी के कस्तूरबा गांधी की बालिकाओं को रेडियो के माध्यम से अंग्रेजी बोलना सिखाया जाएगा। प्रसारण स्कूली समय पर होगा। इसके लिए सर्व शिक्षा अभियान की ओर से आकाशवाणी से प्रसारण को लेकर पत्र लिखा है। क्लास में प्रसारण के समय छात्राओं के साथ क्लास में शिक्षिका भी होंगी।  आकाशवाणी पर छात्राओं को अंग्रेजी सिखाने के लिए 15-15 मिनट का प्रसारण 90 एपिसोड तो होगा। प्रत्येक एपिसोड के खत्म होते ही शिक्षिकाएं छात्राओं को अंग्रेजी से सम्बंधित जानकारी देंगी। इस संबंध में बालिका शिक्षा के जिला समन्वयक योगेश तिवारी ने बताया कि इस प्रोजेक्ट को यूनिसेफ के सहयोग से अगले महीने शुरू किया जा सकता है। इसे लेकर ट्रेनिंग शुरू हो चुकी है।


यह भी पढ़ें:

महागठबंधन में शामिल हो सकता यह दल, यूपी में पहली बार गरजेंगे हार्दिक पटेल



जिला समन्वयकों को दी जाएगी ट्रेनिंग
कस्तूरबा स्कूलों में रेडियों से अंग्रेजी सिखाने को लेकर सर्व शिक्षा अभियान के जिला समन्वयकों को ट्रेनिंग दी जा रही है। यह ट्रेनिंग प्रदेश के 76 जिले जिला समन्वयकों को दी जाएगी। इलाहाबाद सहित 19 जिलों के समन्वयकों को पहले प्रशिक्षित किया जा रहा है। ट्रेनिंग चार बैचों में होगी। एक-एक बैच की ट्रेनिंग 2-2 दिन तक चलेगी।

छात्राओं के साथ अन्य छात्रों को भी लाभ

यह भले ही कस्तूरबा स्कूल की छात्राओं को अंग्रेजी सिखाने के लिए किया जा रहा है लेकिन इसका लाभ परिषदीय स्कूल के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल के छात्रों को भी मिल सकेगा क्योंकि वहां रेडियों संम्बधित पहले से कुछ कार्यक्रम चलाए गए हैं। वहीं इसके लिए भी निर्देश जारी किया जा रहा है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned