BREAKING: बंसल हत्या कांड: डॉक्टरों की चेतावनी, जल्द खुलासा नहीं हुआ तो घातक होगा परिणाम

BREAKING: बंसल हत्या कांड: डॉक्टरों की चेतावनी, जल्द खुलासा नहीं हुआ तो घातक होगा परिणाम
Doctor Bansal Murder Case

शहर के नामी डॉ गुस्से में ,बोले नही करूंगा काम

इलाहाबाद. इलाहाबाद के प्रतिष्ठित सर्जन और जीवन ज्योति अस्पताल राम बाग़ के निदेशक अश्विनी कुमार बंसल की  हत्या को लेकर डॉक्टरों में नाराजगी है। हत्या को लेकर निजी अस्पताल के डॉक्टरों ने मीटिंग की। जिसके बाद डॉक्टरों ने 24 घंटे तक हड़ताल का एलान कर दिया। कहा कि जल्द खुलासा नहीं हुआ तो परिणाम घातक हो सकता है। इलाहाबाद जिला के प्रांतीय चिकित्सा सेवा संवर्ग सरकारी डॉक्टर आज विरोध जताते हुए ओपीडी  और इमरजंसी सेवाएं बंद करने का एलान कर दिया। 


बता दे कि यूपी चुनाव से पहले प्रदेश में हिंसा का दौर शुरू हो गया है। गुरूवार को इलाहाबाद के प्रतिष्ठित सर्जन और जीवन ज्योति अस्पताल राम बाग़ के निदेशक अश्विनी कुमार बंसल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। अपराधियों ने डॉक्टर बंसल को छह गोली मारी थी, जिसके अस्पताल उन्हें इलाज के लिए अस्पताल लाया गया था, जहां उनकी मौत हो गई। वहीं घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की पड़ताल में जुटी है। 



जार्जटाउन थाना क्षेत्र के अमरनाथ झां मार्ग पर रहने वाले डॉ. एके बंसल (डा. अश्विनी कुमार बंसल) (59) का कीडगंज थाना क्षेत्र के बाई का बाग में जीवन ज्योति हास्पिटल है। वह नगर के जाने-माने सर्जन थे। वह रोज अपने हास्पिटल में सात बजे से मरीजों को देखते थे, लेकिन गुरूवार की शाम को वह 6.35 बजे ही पहुंच गये थे। वह अपने चैम्बर में मरीजों को देख रहे थे। पहली पेशेंट मीना केशरवानी अंदर गयी थी। उसके बाद रीवां जनपद का रहने वाला वैद्यनाथ (80) अंदर गया था। उसी समय दो लोग आये। एक व्यक्ति चैम्बर के बाहर खड़ा हो गया और एक अंदर घुस गया। उस वक्त उनका वार्ड ब्यॉय शैलेन्द्र पाठक अंदर था। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned