लोकसभा चुनाव में उम्मीदवारों के साथ प्रस्तावकों देना होगा ये दस्तावेज ,छठे चरण के लिए शुरू हो रहा मंगलवार से नामंकन

लोकसभा चुनाव में उम्मीदवारों के साथ प्रस्तावकों देना होगा ये दस्तावेज ,छठे चरण के लिए शुरू हो रहा मंगलवार से नामंकन

Prasoon Kumar Pandey | Publish: Apr, 15 2019 05:01:28 PM (IST) | Updated: Apr, 15 2019 05:01:29 PM (IST) Allahabad, Allahabad, Uttar Pradesh, India

चुनाव में चालीस हजार फ़ोर्स होगी तैनात,सब कुछ होगा कैमरे की निगरानी में प्रत्याशियों पर चुनाव आयोग की नजर

प्रयागराज। जिले की दोनों सीटों व 2019 के लिए मंगलवार से प्रयागराज में नामांकन की प्रक्रिया शुरू होने जा रहा है। नामांकन की प्रक्रिया सुबह 11 बजे से शाम 3 बजे तक पूरी कराई जाएगी। नामांकन के लिए जिला उपजिला निर्वाचन अधिकारी के अनुसार नामंकन के लिए प्रशासन की और से पुख्ता इंतजाम को अंतिम रूप दिया जा रहा है। नामांकन से पहले कलेक्ट्रेट के अलावा मुख्य सड़क प्रवेश द्वार पर बेरीकैटिंग कराई जा रही है। इसके अलावा नामांकन कक्ष सहित कचहरी परिषर की सुरक्षा व्यवस्था में किसी भी तरह की चुक न रहे जिसके लिए खुद आलाधिकारी मौके पर निरक्षण करने में जुटे है। नामाकंन के दौरान सब कुछ सीसीटीवी की नजर में होगा। वही शहर से कचहरी को जोड़ने वाले सभी मार्ग पर ट्रैफिक डायवर्जन की व्यवस्था की जा रही है।

डीएम और सीडीओ होंगे आरओ
उप जिला निर्वाचन अधिकारी के अनुसार नामांकन करने वाले दावेदारों को शहर के कटरा मार्ग पर सभा करने की अनुमति दी जा रही है। फूलपुर लोकसभा सीट के लिए न्यायालय जिला अधिकारी कक्ष और इलाहाबाद सीट के लिए न्यायालय मुख्य राजस्व अधिकारी कक्ष में नामांकन की व्यवस्था की गई है। फूलपुर सीट के लिए डीएम और इलाहाबाद सीट के लिए सीडीओ को आरओ बनाया गया है। प्रत्याशियों के नामांकन जुलुस सभा सहित अन्य खर्च पर निगरानी के लिए भी वेब प्रेक्षक मौजूद होंगे। नामांकन कक्ष के सौ मीटर के दायरे में किसी भी वाहन का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा।

विवाद से बचने को लगाई गई घड़ी
जिला निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार सभी प्रत्याशी को अधिकतम चार सेट नामांकन पत्र दिए जाएंगे,प्रत्याशी पर निर्भर करता है वह एक ही सेट जमा करते है या चारों वही 17 19 और 21 अप्रैल को सार्वजनिक अवकाश होने के कारण नामांकन नहीं होगा। नामांकन के लिए उम्मीदवारों के साथ अधिकतम चार प्रस्तावक लाए जाने की अनुमति है। प्रस्ताव को में कोई अधिवक्ता भी हो सकता है। नामांकन के दौरान वीडियो रिकॉर्डिंग की व्यवस्था की गई है। नामांकन के दौरान समय का विवाद न हो इसके लिए कार्यालय में एक घड़ी भी लगाई जा रही है। इस घड़ी के समय के मुताबिक नामांकन होगा।

उम्मीदवारों को लाना होगा दस्तावेज़
उप जिला निर्वाचन अधिकारी के अनुसार नामांकन पत्र के साथ प्रत्याशी को जो दस्तावेज लाने हैं उनमें से प्रमुख रूप से आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी अभ्यर्थी के 10 फोटो आयोग प्रमाण पत्र शपथ प्रमाण पत्र एक भी कॉलम खाली नही होना चाहिए ।अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र चुनाव के खर्च के लिए खोले गए खाते बैंक खाते का नंबर अभ्यर्थी के सोशल मीडिया अकाउंट की जानकारी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल का पत्र फार्म ए बी की मूल प्रति अभ्यर्थी अपने आवास में रहता है या सरकारी आवास में उसके भवन सम्बन्धी सभी कागजात लाने होंगे साथ ही 25000 की जमानत राशि का चालान जमा करना होगा। और मांगे गए सभी सरकारी विभागों के नोडीयूज भी नामांकन के लिए लाना अनिवार्य है।

नमांकन 16 से 23 तक
दो लोकसभा सीटों पर छठें चरण में 12 मई को मतदान होगा। नामांकन करने की 16 अप्रैल से अंतिम तिथि 23 अप्रैल तक नामांकन पत्रों की जांच 24 अप्रैल नाम वापसी 26 अप्रैल मतदान का दिनांक 12 मई मतगणना 23 मई को होगी। जिले में कुल मतदेय स्थल 4938, कुल मतदान केन्द्र 2198, बैलेट यूनिट 8180,कन्ट्रोल यूनिट 5930 कुल वीवीपैट. 5852,अतिरिक्त वीवीपैट 565,चालीस हजार ड्यूटी अधिकारी और कर्मचारी लगेंगे ,कुल मतदाता 4428406, जेण्डर रेशियो 825,ईपी रेशियो 6431 है।

मतदाताओ की संख्या
जिले में दिव्यांग मतदाता 26448 कुल बढ़े मतदाता 88822 फूलपुर संसदीय सीट में बढ़े मतदाता 61944 इलाहाबाद संसदीय सीट में बढ़े मतदाता 26878 जिले में सबसे ज्यादा वोटर 30 से 39 आयु वर्ग के हैं इनकी संख्या 11 लाख से ज्यादा है। जबकि सबसे कम 80 वर्ष से ज्यादा के वोटरों की संख्या है बीस हजार से थोड़ी ज्यादा। जिले में 18 से 19 वर्ष के 34 हजार वोटर हैं। जबकि 20 से 29 वर्ष के वोटरों की संख्या 10 लाख से भी अधिक है।

फूलपुर संसदीय सीट
विकास का ही प्रमुख मुद्दा है। हांलाकि फूलपुर में काफी विकास भी हुआ है। लेकिन इस सीट पर जातीय आधार पर मतों का विभाजन होता आया है। राष्ट्रीय मुद्दों पर ही इस बार चुनाव होगा। क्षेत्र में कई विकास कार्य हुए हैं, सड़क बिजली पानी की समस्या लोगों की काफी हद तक दूर हुई है। इसके बावजूद लोगों की कुछ स्थानीय समस्यायें हो सकती है। लेकिन कोई बड़ा स्थानीय मुद्दा इस सीट पर नहीं है।

इलाहाबाद संसदीय सीट
औद्योगिक क्षेत्र नैनी बंदी के कगार पर है जो कि चुनाव में बड़ा मुद्दा होगा, यमुनापार इलाके में पेयजल संकट और सिंचाई का संकट भी सालों से बना हुआ है।औद्योगिक इकाइयों के बंद होने से रोगजगार भी बड़ा मुद्दा होगा। यमुनापार को अलग जिला घोषित करने की भी मांग को राजनीति पार्टियां चुनावी मुद्दा बना सकती हैं।

जिले में दो लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र
51.. फूलपुर संसदीय क्षेत्र
52.. इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र
78.. भदोही संसदीय क्षेत्र का आंशिक हिस्सा


फूलपुर संसदीय सीट पर मतदाताओं की संख्या
चुनाव वर्ष 2019
कुल मतदाता 1975219
पुरुष मतदाता 1083213
महिला मतदाता 891797
अन्य 209


इलाहाबाद संसदीय सीट पर मतदाताओं की संख्या
चुनाव 2019
कुल मतदाता 1693447
पुरुष मतदाता 927964
महिला मतदाता 765288
अन्य 195

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned