कुंभ में लेजर लाइट से दिखेगा मां गंगा का अवतरण

प्रसिद्ध रंगकर्मी राजेंद्र तिवारी ने लिखी है पटकथा

By: sarveshwari Mishra

Published: 24 May 2018, 09:49 AM IST

इलाहाबाद. कुंभ को भव्य बनाने के लिए शासन-प्रशासन लगातार प्रयास कर रहा है। इस बार कुंभ में मां गंगा का अवतरण लेजर लाइट और ध्वनि प्रकाश के माध्यम से देखने को मिलेगा। जून के अंतिम सप्ताह से कार्यक्रम का शुभारम्भ हो जाएगा। जिसे लेकर रामलीला कमेटी की ओर से मुम्बई में प्रोग्रामिंग शुरू कर दिया गया है। गंगा अवतरण को श्री पथरचट्टी रामलीला मैदान में दिखाने के लिए कैलाश पर्वत का दृश्य तैयार कर लिया गया है। लेजर लाइट के जरिए गंगा अवतरण का दृश्य प्रतिदिन शाम सात बजे से दिखाया जाएगा। दर्शक मां गंगा अवतरण का नजारा प्रतिदिन 32 मिनट तक धरती पर देख सकेंगे। इसके माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा।

 

प्रसिद्ध रंगकर्मी राजेंद्र तिवारी ने लिखी है पटकथा
गंगा अवतरण की पटकथा प्रसिद्ध रंगकर्मी राजेंद्र तिवारी ने लिखी है। जिसकी शूटिंग दिल्ली में पूरी की जा चुकी है। लेजर लाइट से प्रदर्शन के लिए दो मशीनें आ चुकी हैं। पहले इसका शुभारम्भ गंगा दशहरा पर होना था, लेकिन तैयारी पूरी न होने के कारण इसे जून के अंतिम सप्ताह में शुरू किया जाएगा।

 

कुंभ में पूरा शहर बनेगा खूबसूरत
कुंभ के मौके पर शहर को खूबसूरत बनाने के लिए प्रशासन ने पूरे शहर में क्योस्क, पोस्टर और झंडे लगाने का निर्देश दिया है।
* पेंट माई सिटी अभियान में प्रमुख दीवारों के चयन की बात कही है।
*दो लाख पौधे प्रयाग और सीमावर्ती क्षेत्रों में लगाने की बात कही।
* पौधे रोपने के साथ ही उद्यान विभाग को दो लाख से अधिक बड़े गमलों में कुंभ में तैयार करने को कहा गया है।
*किले की दीवार को वॉल राइटिंग और अवांछित पौधों से मुक्त कराकर सफाई और पेंटिंग कराई जाएगी।
* कुंभ से पहले टूरिस्ट गाइड, ई-रिक्शा, ऑटो रिक्शा, नाविकों और दुकानदारों को प्रशिक्षित किया जाएगा।
*नगर में वेंडिंग जोन विकसित करने, नाव की पेंटिंग तथा उनके ऊपर का कवर आकर्षक बनाने का निर्देश।
* चौड़ी सड़कों पर डिवाइडर और किनारों पर खम्भे लगाने का आदेश।

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned