नूतन ठाकुर का अखिलेश पर हमला, कहा  IAS अफसर रामरमण की तैनाती कोर्ट की अवमाननाा

नूतन ठाकुर का अखिलेश पर हमला, कहा  IAS अफसर रामरमण की तैनाती कोर्ट की अवमाननाा
Nutan Thakur and Akhilesh Yadav

Varanasi Uttar Pradesh | Publish: Oct, 09 2016 11:29:00 PM (IST) Allahabad, Uttar Pradesh, India

UP सरकार ने IAS अफसर रामरमण को बनाया है नोएडा अथॉरिटी का अध्यक्ष।

इलाहाबाद. उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आईएएस अफसर रमारमण को दुबारा नोएडा अथॉरिटी का अध्यक्ष बनाने को एक्टिविस्ट डा.नूतन ठाकुर ने कोर्ट की अवमानना बताया है। विज्ञप्ति जांरी कर उन्होंने कहा है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रमारमण के नोएडा तथा अन्य अथॉरिटी में अत्यंत लम्बी नियुक्ति के खिलाफ दायर जनहित याचिकाओं में अपने आदेश में 19 सितम्बर 2016 में उन्हें किसी प्रकार की क्लीनचिट नहीं दी थी। 



इसके विपरीत चीफ जस्टिस डी.बी भोसले और जस्टिस यशवंत वर्मा की बेंच ने उनकी तैनाती के दौरान यादव सिंह सहित अन्य घोटाले होने पर गहरी आशंका जाहिर की थी। नूतन ने कहा कि हाईकोर्ट ने ये याचिकाएं इसलिए ख़ारिज की थीं क्योंकि सरकार रमारमण को पूर्व में ही हटा चुकी थी यद्यपि कोर्ट ने एक अफसर के एक ही जगह लम्बी तैनाती पर कड़ी टिप्पणी भी की थी।




उन्होंने कहा कि नोएडा के कार्यों में गंभीर अनियमितता और भ्रष्टाचार की शिकायतें रही हैं और सरकार को कम से कम इतना करना चाहिए कि वहां के प्रशासन को बदल दे क्योंकि एक ही अफसर के एक जगह लम्बी तैनाती से व्यवस्था के प्रति शंका उत्पन्न होती है।नूतन के अनुसार कोर्ट ने कहा था कि कोई अफसर अपरिहार्य नहीं है लेकिन राज्य सरकार ने हाईकोर्ट के इस आदेश के बाद रमारमण को दुबारा तैनात कर न सिर्फ कोर्ट से छल किया है बल्कि उसकी अवमानना भी की है जिसके खिलाफ वे शीघ्र अवमानना याचिका दायर करेंगी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned