इलाहाबाद में पुलिस- बदमाशों में मुठभेड़, एक अपराधी को लगी गोली

इलाहाबाद में पुलिस- बदमाशों में मुठभेड़, एक अपराधी को लगी गोली
पुलिस मुठभेड़

Akhilesh Kumar Tripathi | Publish: Oct, 23 2017 08:36:45 AM (IST) Allahabad, Uttar Pradesh, India

मुठभेड़ में एक आरोपी और दो पुलिसकर्मी भी घायल

इलाहाबाद. धूमनगंज थाने से करीब एक डेढ़ किमी दूर स्थित जंगल में पुलिस और दो बदमाशों के बीच रविवार देर शाम करीब दो घंटे तक मुठभेड़ चली। मुडभेड़ में एक हमलावर पुलिस की गोली से घायल हो गया। जबकि उसका दूसरा साथी फरार हो गया। घायल आरोपी को स्वरूपरानी हाॅस्पिटल में भर्ती कराया गया है। मुठभेड़ के दौरान सब इंस्पेक्टर अवधेश और सिपाही आलोक को हल्की चोटें आई हैं। पुलिस के साथ मुठभेड़ करने वाले दोनों आरोपी पिछले दिनों हुए शोध छात्र पर हमले के आरोपी बताए जा रहे हैं।


गाजीपुर जिले के जमनियां के बूढ़ाडीह गांव निवासी उपेंद्र यादव इलाहाबाद विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग का शोध छात्र है। कुछ महीने पहले वह ताराचंद हाॅस्टल छोड़ कर अपने साथी सतीश विश्वकर्मा के साथ म्योराबाद स्थित एक लाॅज में रहने लगा था। 8 अक्टूबर की देर रात दो जब अपनी बाइक लाॅज के अंदर खड़ी कर रहा था तभी दो बदमाशों ने उसे गोली मार दी थी। गोली कनपटी पर लग थी। गोली लगते ही वह घायल हो कर नीचे गिर पड़ा था। गोली की आवाज सुन लाॅज में रहने वाले साथी नीचे पहुंचे। जहां उन्होंने उपेंद्र को गोली लगी देख पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने तत्काल उसे एसआरएन हाॅस्पिटल पहुंचाया। जहां से उसे लखनऊ रेफर किया गया था ।

 

मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली कि जिन लोगों ने उपेंद्र यादव को गोली मारी थी, वो शार्प शूटर धूमनगंज स्थित नेहरू पार्क के जंगल में पैसा लेने बाइक से पहुंचे थे। सूचना पर पुलिस ने इन्हें चारों तरफ से घेर लिया। पुलिस को देख इन लोगों ने पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। मुठभेड़ के दौरान एसपी सिटी सिद्धार्थ मीना के साथ धूमनगंज थाने के अलावा कैंट, खुल्दाबाद सहित अन्य थाने की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। मुठभेड़ करीब दो घंटे तक चला। मुठभेड़ के दौरान शूटर बांदा निवासी राम बाबू के पांव में एक गोली लगी। गोली लगते ही वह घायल हो कर गिर गया। इसके बाद पुलिस ने उसे घायल अवस्था में तत्काल एसआरएन हाॅस्पिटल भेजा।

 

वहीं दूसरे शूटर के साथ मुठभेड़ जारी रहा। मुठभेड़ के आरोपी अंधेरे का फायदा उठाते हुए एक बड़े से नाले में कूद कर भागने लगा। उसे पकड़ने के लिए कैंट थाने के सब इंस्पेक्टर अवधेश और सिपाही आलोक भी नाले में कूद पड़े। नाले में कूदने के दौरान दोनों घायल हो गए। शूटर ने इसका फायदा उठा भाग गया। एसपी सिटी सिद्धार्थ मीणा ने बताया कि शूटर को पकड़ने के लिए जंगल में घेराबंदी कर दी गई है। उसे जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। वहीं रामबाबू नामक शूटर के पांव में गोली लगी है। घायल अवस्था में उसे एसआरएन हाॅस्पिटल में भर्ती कराया गया है। घायल आरोपी से पूछताछ के बाद ही कुछ पता चल सकेगा।

 

शूटर राम बाबू के खिलाफ बांदा में दर्ज हैं एक दर्जन मामले
पुलिस के साथ दो घंटे तक मुठभेड़ करने वाला राम बाबू बांदा का शार्प शूटर है। इसके खिलाफ बांदा के विभिन्न थानों में करीब एक दर्जन मामले दर्ज हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार राम बाबू मोटी रकम लेकर हत्या की सुपारी लेता था। उपेंद्र यादव को भी गोली मारने के एवज में इसने किसी से सुपारी ली थी। हालांकि उपेंद्र की हत्या कौन करवाना चाहता था और क्यों करवाना चाहता था, इसका खुलासा रामबाबू से पूछताछ के बाद ही हो सकता है।

 

BY- Arun Ranjan

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned