बाहुबली अतीक अहमद के बाद मददगारों पर शिकंजा कसने की तैयारी

पुलिस अतीक अहमद के ऐसे मददगारों की लिस्ट तैयार कर रही है जो उसके अपराधों या आपराधिक कृत्यों पर कार्रवाई करने के बजाय उसे नजरअंदाज करते थे। इस लिस्ट में पुलिस कर्मियों के नाम सबसे ऊपर बताए जा रहे हैं।

प्रयागराज. गुजरात की अहमदाबाद जेल में बंद पूर्व सांसद बाहुबली अतीक अहमद पर ताबड़तोड़ कार्रवाईयों के बाद पुलिस की नजर अब अतीक के मददगारों पर है। पुलिस अब उनपर शिकंजा कसने की तैयारी में है। सरकार के निर्देश पर पुलिस हेल्क्वार्टर ऐसे लोगों की बाकायदा लिस्ट तैयार कर रही है जो अतीक के मददगार रहे हैं और उसके अपराधों पर कार्रवाई करने के बजाय उसे नजरअंदाज करते थे। बताया जा रहा है कि इस लिस्ट में सबसे ऊपर ऐसे पुलिसकर्मियों के नाम होंगे जिन्होंने अतीक अहमद और उसके गैंग के क्रिमिनल रिकाॅर्ड दागी छवि और फर्जी दस्तावेजों को नजरअंदाज करते हुए उन्हें असलहे दिये जाने की सिफारिश की थी।

 

क्रिमिनल रिकाॅर्ड और आपराधिक छवि होने के बावजूद अतीक अहमद के गैंग को असलहों के लाइसेंस कैसे मिलते चले गए पुलिस इससे हैरन है। पुलिस अफसरों की मानें तो यह पता लगाया जा रहा है कि अतीक और उसके गैंग से जुड़े लोगाें की वेरिफिकेशन रिपोर्ट कैसे पास हो गई, जिससे उन्हें असलहों का लाइसेंस मिला। अगर वेरिफिकेशन करने वालों की गलती मिली तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अतीक से जुड़े 30 ऐसे मामलों का पता लगा चुकी है, जिनमें से ज्यादातर मामलों में गलत पते और क्रिमिनल रिकाॅर्ड छिपाकर असलहों के लाइसेंस लिये गए। ऐसे लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगस और उन पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी, जिन्होंने इन असलहों के लाइसेंस की फाइल वेरिफिकेशन करते हुए पास किया था।

 

प्रयागराज रेंज के आईजी कविन्द्र प्रताप सिंह कीमानें तो जांच-पड़ताल के बाद ऐसे असलहों के लाइसेंस निलंबित करसंबंधित लोगों को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया जा चुका है। कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद असलहों का लाइसेंस रद कर असलहे जमा करा लिये जाएंगे। उनके मुताबिक रेंज के दूसरे माफियाओं के संबंध में भी यही प्रक्रिया अपनाई जा रही है।

 

बताते चलें कि बाहुबली अतीक अहमद के खिलाफ पुलिस प्रशासन ने ताबड़तोड़ कार्रवाईयां करते हुए अतीक और उनके परिवार समेत गैंग से जुड़े 20 से अधिक असलहों के लाइसेंस निलंबित कर शस्त्र जमा करा लिये हैं। अतीक अहमद के अलाव उनका भाई पूर्व विधायक खालिद अजीम अशरफ भी गिरफ्तार हो चुका है। दो लाख का ईनामी बेटा उमर अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है। इसके अलावा अब तक अतीक की 200 करोड़ की सम्पत्ति पर पुलिस ने कार्रवाई की है। अभी हाल ही में लूकरगंज में अतीक के कब्जे से नजूल की जमीन छुड़ाई गई है जिसकी कीमत 100 करोड़ से ऊपर बतायी जाती है।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned