President Ramnath Kovind in Prayagraj : इलाहाबादी जलेबी और मिक्सी रोटी के मुरीद हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

President Ramnath Kovind in Prayagraj- हाईकोर्ट बार काउंसिल के अध्यक्ष अमरेंद्र नाथ सिंह ने पत्रिका उत्तर प्रदेश से एक्सक्लूसिव बातचीत की

By: Hariom Dwivedi

Updated: 11 Sep 2021, 06:49 PM IST

प्रयागराज. President Ramnath Kovind in Prayagraj- संगमनगरी में लगभग 6 घंटे दौरे पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद रहे। इलाहाबाद हाईकोर्ट में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत किया। आयोजन समापन के बाद राष्ट्रपति ने हाईकोर्ट परिसर में ही दोपहर का भोजन किया। राष्ट्रपति के लिए विशेष रूप से तरह-तरह व्यंजन तैयार किया गया था। लांच में राष्ट्रपति ने मक्के की मिक्सी रोटी, शाही पनीर और इलाहाबादी मशहूर जेलेबी का स्वाद चख मुरीद हुए।

शुद्ध शाकाहारी भोजन किया गया था तैयार
संगमनगरी में राष्ट्रपति के आगमन को लेकर विशेष रूप से भोजन तैयार किया था। कार्यक्रम में शामिल हाईकोर्ट बार काउंसिल के अध्यक्ष अमरेंद्र नाथ सिंह ने बताया कि राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के लिए सुबह के नाश्ते के साथ ही भोजन में शाही पनीर, अरहल की दाल में, मसूर की दाल, चने की दाल, सादा चावल, पुलाव और इलाहाबादी जेलेबी के साथ कई तरह के स्वादिष्ट मिठाई शामिल किए गए थे। बार काउंसिल अध्यक्ष ने बताया कि राष्ट्रपति ने बहुत सादगी पूर्वक दोपहर के भोजन में दाल, शाही पनीर, मिक्सी रोटी और इलाहाबाद जेलेबी का सेवन किया।

आज का दिन अधिवक्ताओं लिए रहा खास
इलाहाबाद हाईकोर्ट के बार काउंसिल अध्यक्ष अमरेंद्र नाथ सिंह खास बात बातचीत में बताया कि इलाहाबाद हाईकोर्ट में आज का दिन खास रहा है। अधिवक्तयों की वर्षों पुरानी बैठने की व्यवस्था के लिए नए मल्टी लेवल भवन का निर्माण शिलान्यास हुआ है। अब इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्तयों को बैठने और पार्किंग जैसे समस्यओं से बहुत ही जल्द निजात मिल जाएगी। इसके राज्य सरकार ने 600 करोड़ रुपए स्वीकृति दे दी है। इस इमारत में चेम्बर, लाइब्रेरी, बैठने के हाल और 23 सौ चेम्बर बैठने के लिए बनाया जाएगा। यह अधिवक्ता भवन ढाई साल में तैयार किया जाएगा। इस इमारत निर्माण के लिए राज्य सरकार ने पहले से ही न्यायालय को लागत के खर्च दे चूंकि है।

यह भी पढ़ें : राष्ट्रपति बोले- महिलाओं में न्याय की प्रवृत्ति अधिक, न्यायपालिका में बढ़े भागीदारी

राष्ट्रीय विधि विश्यविद्यालय का किया गया शिलान्यास
बार काउंसिल अध्यक्ष अमरेंद्र नाथ सिंह ने बताया कि इसके साथ ही राष्ट्रपति ने झलवा में बनने वाले राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय का भी शिलान्यास किया है। इस विश्वविद्यालय को तैयार करने में खर्च होने वाले लागत को धनमुक्त कर दिया है। विश्वविद्यालय के तैयार होने से आने वाली पीढ़ी न्याय के क्षेत्र में न्यायिक कार्य करने में आगे बढ़ेंगे।

राष्ट्रपति ने पूर्व राज्यपाल से किया शिष्टाचार मुलाकात
हाईकोर्ट के कार्यक्रम के बाद राष्ट्रपति ने पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी से शिष्टाचार भेंट करके हालचाल जाना. पूर्व राज्यपाल से मुलाकात करने बाद राष्ट्रपति वायुसेना के विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना हुए.

यह भी पढ़ें : भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में लंबित आपराधिक मामलों पर जताई चिंता

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned