जातिगत आरक्षण के विरोध में देश भर में आन्दोलन का एलान

जातिगत आरक्षण के विरोध में देश भर में आन्दोलन का एलान

Prasoon Pandey | Publish: Dec, 08 2017 08:53:58 AM (IST) Allahabad, Uttar Pradesh, India

राजनैतिक दलों के लिए मुसीबत बन सकता है यह आन्दोलन

इलाहाबद जातिगत आरक्षण के खिलाफ सर्व स्वर्ण समाज ने संगम नगरी में आरक्षण के विरोध का आवाहन किया है।स्वर्ण समाज ने ऐलान किया है की संगम नगरी से शुरू हो आरक्षण का विरोध दर्शन किया जायेगा। जिसमें सामान्य वर्ग के लोग और सामाजिक संगठन भी शामिल होंगे। संगठनों के अनुसार जिस तरह से आरक्षण के द्वारा योग्यता का हनन हो रहा है।उससे नही लगता है की आने वाला भविष्य बहुत अच्छा होगा।आरक्षण के आधार पर अच्छे दिन की परिकल्पना नही की जा सकती। जब तक ये वोट की राजनीति आरक्षण पर नही बन्द होगी तब तक एक समृद्ध भारत का निर्माण असम्भव है।

इसी को लेकर स्वर्ण भारत परिवार जातिगत आरक्षण के विरोध मे 10 अक्टूबर को इलाहाबाद के चंद्रशेखर पार्क में विरोध प्रदर्शन और धरना प्रदर्शन करने जा रहा है। जिसमें संस्था के पदाधिकारीगण और सर्व सामान्य लोग और आरक्षण विरोधी छोटी.बड़ी सभी पार्टियां अपना विरोध दर्ज करवाएंगी।आन्दोलन की अगुवायी कर रहे स्वर्ण परिवार के मुखिया पीयूष पंडित ने कहा कि जब गरीबी जाति देखकर नही आती तो आरक्षण जाति के आधार पर क्यों। सरकार को सिर्फ एक विशेष वर्ग ही चिंता क्यों क्या स्वर्ण जातियां इस देश के नागरिक नही हैं। तो उनके साथ ये दोहरा रवैया क्यों इस दोहरे रवैये के कारण ही देश के नागरिकों में असुरक्षा की भावना पैदा हो रही है। इससे देश के नागरिकों में दूसरी जाति के लोगों से द्वेष पैदा होता है।आरक्षण की इस भेदभाव नीति ने देश को नुकसान पहुंचाया है। इसे ख़त्म करने में ही देश का हित निहित है।

जातिगत आरक्षण के खिलाफ इसमें सभी स्वर्ण समाज के संगठनों के साथ सामान्य वर्ग के लोग और सामाजिक संगठन भी शामिल होंगे। संगठनों के अनुसार जिस तरह से आरक्षण द्वारा योग्यता का हनन हो रहा है।उससे नही लगता कि आने वाला भविष्य बहुत अच्छा होगा। आरक्षण के आधार पर अच्छे दिन की कल्पना नही की जा सकती। जब तक ये वोट की राजनीति आरक्षण पर बंद नहीं होगी तब तक एक समृद्ध भारत का निर्माण असम्भव है। आगामी दश नवंबर को इलाहाबाद शुरू हो रहे इस आनोलन को पुरे भारत में ले जाने की तैयारी है। पीयूष पंडित ने पत्रिका को बताया की इलाहाबाद की इस धरती से कई बड़े आन्दोलन का आगाज हुआ है। इसलिए आरक्षण जो समाज को कमजोर रहा है। उसे भी समाप्त करने की शुरुवात यही से होगी ।

Ad Block is Banned