इलाहाबाद विवि में प्रॉक्टर को हटाने की मांग को लेकर छात्रों का प्रदर्शन

 इलाहाबाद विवि में प्रॉक्टर को हटाने की मांग को लेकर छात्रों का प्रदर्शन
Allahad University

प्रदर्शन के दौरान छात्र संघ के उपाध्यक्ष अदील हमजा की तबीयत बिगड़ी, अदील हमजा को निष्काषित करने के विरोध में छात्रों का फूटा गुस्सा

इलाहाबाद. इलाहाबाद विश्वविद्यालय से छात्र संघ के उपाध्यक्ष अदील हमजा को नोटिस जारी कर 15 अगस्त तक निष्काषित करने के विरोध में विद्यार्थियों ने शुक्रवार को कुलपति के खिलाफ जम कर विरोध प्रदर्शन किया। विरोध के दौरान हम्जा की तबियत खराब हो गयी, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती किया गया।


दरअसल पिछले दिनों इलाहाबाद विवि के अंदर छात्रों की विभिन्न मांगों को लेकर छात्र संघ के उपाध्यक्ष अदील हमजा ने मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी का पुतला दहन किया था। जिसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से छात्र संघ के उपाध्यक्ष अदील हमजा को नोटिस जारी किया था। नोटिस के माध्यम से उन्होंने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को एक महान विचारधारा के चिंतक बताया था। साथ ही उन्हें प्रखर वक्ता एवं पवित्र मंदिर के धर्माचार्य भी कहा था। ऐसे में उनका इस प्रकार किया गया पुतला दहन का कृत्य असंवैधानिक, अवैधानिक, अधार्मिक, अनाध्यात्मिक और विश्वविद्यालय अनुशासन संहिता का उल्लंघन है।

यह भी पढ़ें:
पूर्वी यूपी में भारी बारिश, सोनभद्र मिर्जापुर के सैकड़ों गाँव बने काला पानी



छात्र को भेजे गए नोटिस में विश्वविद्यालय प्रशासन ने कहा है कि विवि स्थल पर शव यात्रा निकालना, पुतला दहन करना, अपशब्दों का प्रयोग करते हुए नारेबाजी करना, शिक्षण, पठन-पाठन में अशांति पैदा करना, तोड़फोड़-आगजनी करना विश्वविद्यालय अनुशासन संहिता का उल्लंघन है। लेकिन इस प्रकार का कृत्यों का नेतृत्व आपके द्वारा किया गया है।




इविवि के छात्रों ने प्रॉक्टर को हटाने व छात्रों का शोषण बंद करने की मांग की। इस दौरान प्रदर्शन करते हुए छात्र कुलपति के पास जाने लगे। अचानक आदिल की तबियत खराब हो गई। जिसे तत्काल निजी अस्पताल में भर्ती किया गया।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned